ALL Rajasthan
 कोरोना का असर-लॉकडाउन के कारण दुनियाभर में रिलीज नहीं हुईं फिल्में, 93 साल में पहली बार 4 महीने आगे बढ़े ऑस्कर अवॉर्ड्स
May 13, 2020 • Rajkumar Gupta

 

लंदन. 1929 से शुरू हुई ऑस्कर अवॉर्ड सेरेमनी पहली बार टाल दी गई है। कोरोनावायरस के कारण दुनिया के ज्यादातर देेशों में लॉकडाउन चल रहा है। फिल्में रिलीज नहीं हो पाई हैं। नॉमिनेशन के लिए भी पर्याप्त एंट्रीज नहीं हैं। लिहाजा, 28 फरवरी 2021 को होने वाला ऑस्कर पुरस्कार समारोह अब मई-जून 2021 तक बढ़ा दिया गया है। 

मार्च-अप्रैल में शुरू होता है प्रॉसेस

ऑस्कर के लिए एंट्रीज भेजने का प्रॉसेस अमूमन मार्च या अप्रैल के आखिर में शुरू होता है। नवम्बर और दिसंबर केे बीच नॉमिनेशन शॉर्ट लिस्ट किए जाते हैं। जूरी मेंबर जनवरी में वोटिंग करते हैं। लॉकडाउन की वजह से बॉण्ड सीरीज की नो टाइम टू डाई, टॉप गन मेवरिक, मुलन और ब्लैक विडो जैसी बड़ी फिल्मों की रिलीज डेट बढ़ा दी गई है।

अकेडमी ने भी दी सुविधा
पिछले महीने अकेडमी ने शेड्यूल पर अपडेट दिया था। इसमें कहा गया था कि इस साल रिलीज हो चुकी फिल्में 2022 तक के लिए नॉमिनेशन दे सकती हैं। ऐसा इसलिए भी किया गया था ताकि मेकर्स इन फिल्मों को इस साल के आखिर या अगले साल रिलीज कर सकें। साथ ही उनमें यह भरोसा बना रहे कि उनकी फिल्में ऑस्कर में भेजे जाने के काबिल हैं।

स्थायी नहीं हैं बदलाव

ऑस्कर अकेडमी ने महामारी के मद्देनजर कुछ नियमों को बदल दिया। हालांकि, यह यह बदलाव स्थायी नहीं है। फिलहाल, ये  बदलाव या नियम सिर्फ इस साल रिलीज होने वाली फिल्मों पर ही लागू होंगे। एकडेमी ने यह भी बताया था कि नॉमिनेशन कैटेगरीज भी घटाकर 23 की गई हैं।