ALL Rajasthan
 लॉकडाउन 2.0 / राजस्थान में ट्रेन और फ्लाइट्स भी 3 मई तक कैंसिल की गई, बुकिंग भी अगले आदेश तक बंद
April 14, 2020 • Rajkumar Gupta

तस्वीर बीकानेर की है। जहां मालगाड़ी को भी सैनेटाइज किया जा रहा है। जिसकी मदद से जरुरत का सामान एक से दूसरे स्थान पर पहुंच रहा है।

जयपुर. लॉकडाउन बढ़ने के साथ ही राज्य में ट्रेन की सुविधा भी 3 मई तक के लिए कैंसिल कर दी गई है। जिसमें पैसेंजर्स ट्रेनों समेत, प्रीमियम ट्रेन, मेल और एक्सप्रेस ट्रेन शामिल हैं। साथ ही बुकिंग भी बंद कर दी गई है। वहीं मालगाड़ी का संचालन रेलवे द्वारा किया जा रहा है। गाड़ियों के मैंटेनेंस का काम भी लगातार जारी है। इसके साथ पहले की तरह ही फ्लाइट्स भी बंद रहेंगी। सभी इंटरनेशनल और घरेलू फ्लाइट्स का संचालन नहीं किया जाएगा। सिर्फ कार्गो प्लेन ही चलाए जाएंगे। 

गौरतलब है कि 15 अप्रैल के बाद की ट्रेनों में बुकिंग शुरू कर दी गई थी। अब लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ने के कारण सभी बुकिंग कैंसिल कर दिया गया है। लोगों को पूरी राशि रिफंड के तौर पर वापस दी जाएगी। देश में आवश्यक सामग्री की आपूर्ति निरंतर बनी रहे, इसी उद्देश्य से भारतीय रेल विशेष पार्सल ट्रेनों का संचालन कर रहा है। उत्तर पश्चिम रेलवे पर भी इस तरह की ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है, जिसका लाभ लेने के लिए संबंधित स्टेशन के पार्सल कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।

रेलवे प्रदेश में 266 आइसोलेशन कोच तैयार करेगी

उत्तर पश्चिम रेलवे के अधिकारियों के अनुसार यहां कुल 266 आइसोलेशन कोच तैयार किए जाएंगे। इनमें से 13 आइसोलेशन को तैयार किए जा चुके हैं। इन सभी कोच में 3700 से ज्यादा मरीजों का उपचार किया जा सकेगा।

ऐसे हो रहा है बदलाव: आइसोलेशन कोच के लिए बीच की बर्थ हटाई जा रही है। हर कोच में 14 से 16 मरीज रखेंगे। 266 आइसोलेशन कोच में 3724 मरीजों का उपचार हो सकेगा। अभी एक कोच में चार टॉयलेट होते हैं, अब दोनों तरफ के एक-एक टॉयलेट हटाकर बाथरूम बनाया जा रहा है। महामारी का मुकाबला करने के लिए केंद्र के निर्देश पर रेलवे ने तैयारी शुरू कर दी है। जल्द ही आइसोलेशन कोच उपलब्ध होगा।

यहां बन रहे आइसोलेशन कोच 

    अजमेर के मदार में 40 कोच तैयार हो रहे हैं।
    उदयपुर में 37 आइसोलेशन कोच तैयार किए जा रहे हैं।
    जोधपुर में 83 कोच तैयार होंगे। अभी एक कोच तैयार हुआ है।
    जयपुर में 48 कोच तैयार किए जाने हैं जिसमें से 12 कोच तैयार किए जा चुके हैं।
    बीकानेर में 33 और लालगढ़ में 17 आइसोलेशन कोच तैयार किए जाने हैं।