ALL Rajasthan
  राज्य में संक्रमितों का आंकड़ा 1282 पहुंचा; अब तक 19 की मौत-राजस्थान: लॉकडाउन फेज-2 का चौथा दिन / 53 नए पॉजिटिव मिले, संक्रमण से जयपुर में दो लोगों की मौत: झुंझुनू में 500 और 200 रु के नोट से कोरोना फैलने की अफवाह
April 18, 2020 • Rajkumar Gupta


यह तस्वीर भीलवाड़ा की है। यहां सभी संक्रमित ठीक हो गए हैं। प्रशासन लगातार सख्ती किए गए है। इलाकों को सुबह-शाम सैनिटाइज किया जाता है।
जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। शनिवार को भी 53 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इसमें भरतपुर में 27, नागौर में 11, कोटा में 5, जयपुर में 3, जोधपुर और अजमेर में 2-2 संक्रमित मिले। इसके अलावा, बांसवाड़ा, जैसलमेर में एक-एक मरीज मिला। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1282 पर पहुंच गया है। वहीं, संक्रमण से शुक्रवार देर रात जयपुर में दो लोगों की मौत हो गई।

झुंझुनू में सड़क पर 500, 200 और 10 रुपए के नोट मिलने से शहर में तनाव फैल गया। तीन दिन में ऐसा दूसरी बार हुआ। अफवाह रही कि ऐसा कोरोना फैलाने के लिए किया गया। इससे लोग परेशान हुए। पुलिस को शिकायत भी की गई। सूचना मिलने पर घटना स्थल पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंच गए। पुलिस ने इन नोटों को जब्त किया। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी से इस मामले की जांच कर रही है। झुंझुनू में संक्रमण के अब तक 36 केस सामने आ चुके हैं।

-जयपुर: जयपुर में अब तक 499 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें एक डॉक्टर, 5 पुलिसकर्मी, 2 एएनएम, 2 नर्स और 1 वार्ड बॉय शामिल है। वहीं, शहर में अब तक कुल संक्रमित में से करीब 343 संक्रमित एक ही इलाके रामगंज या उसके आसपास के रहने वाले हैं। जयपुर के एसएमएस अस्पताल से शुक्रवार को एक बार फिर कोरोना संदिग्ध ने भागने की कोशिश की। युवक पहली मंजिल से कूदकर बरामदे मे आ गया। इसके बाद अस्पताल स्टाफ ने उसे पकड़कर फिर वार्ड में पहुंचाया। यह वही संदिग्ध है, जो तीन दिन पहले भी खिड़की से कूदकर टीन शेड पर बैठ गया था।
-चूरू: शहर में आत्महत्या करने वाले व्यक्ति की शुक्रवार को कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिला कलेक्टर संदेश नायक ने बताया कि चूरू के खासोली गांव में 35 वर्षीय युवक ने कोरोना संदिग्ध होने के चलते आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में लिखा था उसे कोरोना रोगी होने का शक है, इसलिए फांसी लगाकर आत्महत्या कर रहा है। उसके परिवार को परेशान नहीं किया जाए। जिसके सैंपल जांच के लिए बीकानेर भेजे गए थे।

- भीलवाड़ा: राजस्थान में कोरोना का एपिसेंटर रहे भीलवाड़ा से शुक्रवार को राहत भरी खबर आई है। यहां मिले सभी कोरोना संक्रमित ठीक हो गए हैं। शुक्रवार को हॉस्पिटल में इलाज करा रहे आखिरी मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया गया है। भीलवाड़ा में अब तक कोरोना संक्रमण के 28 केस सामने आए थे, इसमें 26 ठीक हो गए। जबकि दो की मौत हो गई थी। हालांकि, यहां अभी भी सख्ती जारी है। सिर्फ जरूरी सेवाओं को ही कोरोना प्रोटोकॉल के तहत शुरू किया गया है। शहर की सीमाएं सील हैं। किसी को अंदर आने नहीं दिया जा रहा है। साथ ही, इलाके में लगातार सैनेटाइजेशन, स्क्रीनिंग और जांच का काम किया जा रहा है।

जोधपुर: जयपुर के बाद सबसे बड़ी चिंता-जोधपुर में भी शनिवार को दो नए पॉजिटिव केस मिले। इसके बाद यहां कुल संक्रमितों की संख्या 202  (इसमें 46 ईरान से आए) हो गई है। संक्रमितों में एक रेजिडेंट डॉक्टर और होमगार्ड का एक जवान भी है। इससे पहले शुक्रवार को 20 नए मरीज मिले थे। राजस्थान सरकार के लिए जयपुर के बाद सबसे बड़ी चिंता जोधपुर बन गया है।

कोटा: 7 हजार से ज्यादा छात्र निकले, लेकिन अभी हजारों फंसे हुए हैं-कोटा शहर में फंसे कोचिंग छात्रों को लेने के लिए शुक्रवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने 252 बसें कोटा भेजी थीं। यहां यूपी के 7 हजार 500 छात्र हैं, जिन्हें बसों से उनके घरों के लिए भेजा गया। राजस्थान और यूपी सरकार ने गुरुवार को यह फैसला लिया था। छात्रों के लिए शुक्रवार को 102 बसें झांसी और 150 बसें आगरा से रवाना हुईं। रात में ही छात्र बसों से रवाना हो गए। हालांकि, अभी यहां बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों के छात्र फंसे हुए हैं।

रैपिड टेस्टिंग किट से कोरोना की जांच करने वाला पहला प्रदेश बना राजस्थान-राजस्थान देश में रैपिड टेस्टिंग किट के जरिए कोराना की जांच करने वाला पहला प्रदेश बन गया है। शुक्रवार को पहले दिन जयपुर में 52 लोगों का सैंपल लिया गया। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि कोरोना के लिए रैपिड टेस्ट पूरी तरह से सटीक नहीं है। हालांकि, इसमें पॉजिटिव मिलने वाले व्यक्ति को तुरंत आइसोलेट कर उसकी जांच कराई जाएगी, ताकि वह संक्रमण ना फैला ना सके।
-राज्य के  33 जिलों में से अब तक कोरोना 25 तक पहुंच गया है। सबसे ज्यादा जयपुर में 499 (2 इटली के नागरिक) पॉजिटिव मिले हैं। इसके अलावा जोधपुर में 202 (इसमें 46 ईरान से आए), कोटा में 97, टोंक में 93, भरतपुर में 70, बांसवाड़ा में 60, जैसलमेर में 45 (इसमें 14 ईरान से आए), बीकानेर में 35, झुंझुनूं में 36 और भीलवाड़ा में 28 मरीज मिले हैं। उधर, नागौर में 26, झालावाड़ में 18, अजमेर में 17, चूरू में 14, दौसा में 13, अलवर में 7, डूंगरपुर में 5, उदयपुर में 4, करौली में 3, हनुमानगढ़, प्रतापगढ़, सीकर और पाली में 2-2, जबकि बाड़मेर और धौलपुर में 1-1 व्यक्ति को इस बीमारी ने अपनी चपेट में लिया है।
- राजस्थान में कोरोना से अब तक 19 लोगों की मौत हुई। इसमें सबसे ज्यादा 9 मौतें जयपुर में हुई। वहीं, जोधपुर, भीलवाड़ा और कोटा में दो-दो की जान जा चुकी है। इसके अलावा बीकानेर और टोंक में एक-एक की मौत हुई है। इनमें एक 13 साल की बच्ची है बाकी सभी मृतकों की उम्र 47 साल से अधिक थी।

देश में राजस्थान रैपिड टेस्टिंग किट के जरिए कोराना की जांच करने वाला पहला प्रदेश बन गया है। शुक्रवार को जयपुर में 52 लोगों का सैंपल लिया गया। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई।