ALL Rajasthan
21 को महाराष्ट्र से चली श्रमिक ट्रेन 25 को पहुंची बरौनी, गाड़ी से उतरते ही मजदूर की मौत
May 26, 2020 • Rajkumar Gupta

बेगूसराय
मुंबई से प्रवासी मजदूरों को लेकर बरौनी पहुंची श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन (Shramik Special Train) से उतरते ही एक प्रवासी मजदूर की मौत हो गई। मृतक प्रवासी मजदूर की पहचान कटिहार जिले के 45 वर्षीय मोहम्मद अनवर के रूप में हुई है। बताया जाता है कि 21 मई को महाराष्ट्र से प्रवासी मजदूरों को लेकर ये श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन चली थी जो कई राज्यों से घूमते हुए 25 मई की रात बरौनी पहुंची। मजदूरों का आरोप है कि 4 दिनों तक कई राज्य घुमाने के बावजूद ट्रेन में खाने-पीने की कोई व्यवस्था नहीं थी।

मजदूर के अचानक मौत की क्या है वजह
आम तौर पर महाराष्ट्र से बिहार आने वाली सामान्य ट्रेनों को करीब 30 से 36 घंटे लगते हैं। ऐसे में श्रमिक ट्रेन के चार दिन में बरौनी पहुंचने पर मजदूरों ने सवाल खड़े किए हैं। यही नहीं स्टेशन पर उतरे मजदूरों ने बताया कि मृतक शख्स ने 4 दिनों से खाना नहीं खाया था और ना ही उसके साथी ही कुछ खा पाए थे।

मजदूरों का आरोप- ट्रेन में नहीं मिला खाना
मजदूरों ने बताया कि बरौनी स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने के बाद इन लोगों ने कुछ नाश्ता किया, उसके बाद प्लेटफार्म 7 से 8 पर दूसरी ट्रेन पकड़कर कटिहार जाने वाले थे। दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के दौरान मोहम्मद अनवर अचानक गिर गए और उसकी मौत हो गई। हालांकि, अनवर की मौत भूख से हुई या किसी अन्य बीमारी से ये जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।

मजदूर की मौत पर माले नेता ने उठाए सवाल
इस बीच बरौनी जीआरपी ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है। प्रवासी मजदूरों को घर वापसी के दौरान लगातार मौत की खबरें आ रही है जो कि बेहद चिंताजनक है। सदर अस्पताल पहुंचे माले नेता चंद्र देव वर्मा ने सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि ट्रेन से प्रवासियों को भेजा जा रहा है लेकिन ट्रेन में खाने की कोई व्यवस्था नहीं है। पोस्टमार्टम के 4 घंटे बाद भी शव को उसके घर भेजने की कोई व्यवस्था नहीं की गई है जो कि शर्मनाक है।