ALL Rajasthan
अवैध संबंधों में बाधा बन रहे महिला के पति को प्रेमी ने कार से कुचलकर मार डाला, नए फोन कॉल से पकड़ा गया
May 28, 2020 • Rajkumar Gupta


प्रेमिका के पति की कार से कुचलकर हत्या करने के आरोप में बगरु थाने में गिरफ्तार आरोपी पूरण महावर प्रेमिका के पति की कार से कुचलकर हत्या करने के आरोप में बगरु थाने में गिरफ्तार आरोपी पूरण महावर

जयपुर. विजेंद्र सिंह/उदय चौधरी. शहर के बगरु थाना इलाके में रीको एरिया में एक ब्लाइंड मर्डर का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने आरोपी को चंद घंटों के भीतर गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। हत्या की वजह अवैध प्रेम संबंध बने। जिसमें प्रेमी ने प्रेमिका के पति को रास्ते से हटाने के लिए उसकी हत्या की साजिश रची। इसके लिए रिश्तेदार की आईडी से मोबाइल सिम खरीदी। इसी नए नंबर से फोन कर प्रेमिका के पति को अहम बातचीत करने के बहाने 26 मई को बुलाया।

फिर योजना के अनुसार पहले उसे गला घोंटकर बेहोश कर दिया। इसके बाद हत्या को रोड एक्सीडेंट का रुप देने के लिए अपनी कार से शव को तीन-चार बार कुचला। इसके बाद मृतक के हाथ में पहना हुआ चांदी का कड़ा, अंगूठी, पर्स मय आधार कार्ड, एटीएम कार्ड, क्रेडिट कार्ड लूटकर भाग गया। यही नहीं हत्या के आरोपी प्रेमी ने मृतक के चुराए गए क्रेडिट कार्ड से एक लाख रुपए निकाले। इनमें 60 हजार रुपए और अन्य सामान पुलिस ने बरामद कर लिया है। यह कार्रवाई डीसीपी कावेंद्र सिंह सागर के निर्देशन में एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह शेखावत, एसीपी रायसिंह बेनीवाल, बगरु थानाप्रभारी बृजभूषण अग्रवाल के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने की।

26 मई को पत्नी के बारे में जानकारी देने के बहाने पति को बुलाया, फिर मार डाला

हत्या की यह वारदात 26 को हुई थी। इसके बाद शव 27 को सुबह रीको एरिया में मिला। पुलिस ने मृतक के मोबाइल की कॉल डिटेल्स निकलवाई। जिसमें एक संदिग्ध नया नंबर भी सामने आया। इसके बाद आसपास लगे एरिया में कार का नंबर भी सीसीटीवी फुटेज में आ गया। इसके आधार पर पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया। पूछताछ में उसने हत्या करना कबूल कर लिया। एडिशनल पुलिस कमिश्नर अशोक गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी पूरण महावर (40) निवासी जोशी कॉलोनी, पौण्ड्रिक पार्क के पास, ब्रह्मपुरी रोड है। वह टैक्सी कार चलाता था।

एडिशनल कमिश्नर ने बताया कि मृतक सुरेशचंद शर्मा (43) बसवा तहसील, दौसा का रहने वाला था। वह बगरु में रिको एरिया में एक निजी कंपनी में अकाउंटेंट का जॉब करता था। वहीं, बगरु में मालियों के मोहल्ले में पत्नी के साथ किराए से रहता था। कुछ अरसे पहले सुरेश व आरोपी पूरण की मुलाकात हुई थी। उनके बीच घर आना जाना हुआ। तब पूरण और सुरेश की पत्नी के बीच नाजायज संबंध बन गए। पूरण, सुरेश की पत्नी से शादी करना चाहता था। लेकिन वह अपने पति को छोड़ने को तैयार नहीं थी।

ऐसे में पूरण ने प्रेम संबंधों में बाधा बन रहे सुरेश को मारने की योजना बनाई और 26 मई को वारदात को अंजाम दिया। यह भी जानकारी में सामने आया कि वह घर वालों से करौली जाने की बात कहकर कार से निकला था। उधर, पति सुरेशचंद शर्मा के 26 मई की रात को घर नहीं पहुंचने पर उसकी पत्नी ने ही बगरु थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। पुलिस अब सुरेश की पत्नी और आरोपी पूरण की प्रेमिका की भूमिका की जांच कर रही है।