ALL Rajasthan
बढ़ रहे कोरोना मरीज लेकिन घबराएं नहीं, दूसरे देशों से अभी बेहतर है भारत, 5 वजह
May 13, 2020 • Rajkumar Gupta

बढ़ रहे कोरोना मरीज लेकिन घबराएं नहीं, दूसरे देशों से अभी बेहतर है भारत, 5 वजहदेश में कोरोना वायरस के केस 74281 हुए। 3-4 दिन में भारत कोरोना केसों की संख्या में चीन को भी पीछे छोड़ सकता है। मई महीने में कोरोना के केसों में तेजी आई है लेकिन फिर भी कुछ चीजें ऐसी हैं जो बताती हैं कि भारत में हालात अमेरिका, इटली, रूस जैसे बुरे नहीं हैं। ऐसी ही पांच बातें हम आपको बता रहे हैं
​25 टेस्ट पर एक कोरोना पॉजिटिव
भारत में फिलहाल हालात बाकी देशों जैसे नहीं बिगड़े हैं। इसका एक उदाहरण टेस्टिंग से समझें। भारत में फिलहाल 25 टेस्ट होने पर एक शख्स पॉजिटिव मिल रहा है। वहीं अमेरिका में 6.8 टेस्ट पर एक मरीज, ब्रिटेन में छह टेस्ट पर एक, जापान में 13.6 टेस्ट पर एक, जर्मनी में 17 टेस्ट पर एक और इटली में 11.6 टेस्ट पर एक मरीज मिल रहा है।
कोरोना के केस 12.2 दिन में डबल
कोरोना वायरस की रोकथाम में लॉकडाउन का अहम रोल रहा है। केसों के डबल होने की वक्त यह बताया है। मंगलवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि केस 12.2 दिन में डबल हो रहे हैं। पिछले 14 दिनों में केस 10.9 दिनों में डबल होने लगे थे। लेकिन पिछले तीन दिनों में इसमें सुधार आया है।
प्रति 10 लाख पर कितनी मौत
प्रति 10 लाख की आबादी पर भारत में दो लोगों की मौत हुई है। वहीं अमेरिका में 248, स्पेन में 576, ब्रिटेन में 482, इटली में 508 और फ्रांस में यह संख्या 408 है।
​रिकवरी रेट बेहतर
भारत का रिकवरी रेट भी बाकी देशों के मुकाबले अच्छा है। अबतक कुल 24386 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। मंगलवार को भी हजार से ज्यादा लोग ठीक हुए। सिर्फ दिल्ली में 383 लोग ठीक होकर मंगलवार को घर गए हैं।
ग्लोबल लिस्ट में 12वें नंबर पर भारत
कोरोना से प्रभावित देशों की लिस्ट में भारक 12वें नंबर पर है। कुल मामले हों या मृत्यु दर, दोनों में भारत की स्थिति अमेरिका, स्पेन, रूस, ब्राजील, ईरान और चीन से अबतक बेहतर है।