ALL Rajasthan
बजरी खनन माफिया से परेशान व्यक्ति ने सीएम हाउस के पास कीटनाशक पीकर किया खुदकुशी का प्रयास
May 26, 2020 • Rajkumar Gupta

जयपुर. राजधानी में मंगलवार को नागौर जिले से आए एक व्यक्ति ने सिविल लाइंस स्थित मुख्यमंत्री आवास के समीप पहुंचकर कीटनाशक पदार्थ खाकर खुदकुशी का प्रयास किया। इस दौरान वहां सुरक्षा व्यवस्था में मौजूद पुलिसकर्मियों ने उस व्यक्ति को देख लिया। ऐसे में तत्काल स्थानीय पुलिस थाने को सूचना देकर खुदकुशी का प्रयास करने वाले व्यक्ति को एमएमएस अस्पताल पहुंचाया। जहां उसका उपचार जारी है।

वहीं, घटना का पता चलने पर सीएम सिक्यूरिटी, इंटेलीजेंस और पुलिस कमिश्नरेट के स्थानीय पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों से व्यक्ति के बारे में जानकारी जुटाई। इसके बाद अस्पताल पहुंचकर पीड़ित से बातचीत की। पुलिस के मुताबिक जहरीला पदार्थ खाने वाले व्यक्ति का नाम चेनाराम माली है। वह नागौर जिले के रिया बाड़ी कस्बे का रहने वाला है। वह ऑल राजस्थान दुकानदार महासंघ का तहसील अध्यक्ष है। 

सीएम के नाम ज्ञापन में लिखी पुलिस और बजरी माफिया से प्रताड़ना की पीड़ा

चेनाराम के पास मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन मिला है। जिसमें लिखा है कि 18 मई को बजरी खनन माफिया से जुड़े बदमाशों ने जानलेवा हमला कर दिया था। इस संबंध में चेनाराम ने पादूकलां थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। इसके बाद मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने के लिए फिर से माफिया बदमाशों ने 22 मई को उसे अकेला पाकर मारपीट की। तब वह वापस पादूकलां थाने पहुंचा। वहां रिपोर्ट देने लगा तो थानाप्रभारी ने केस दर्ज करने से इंकार कर दिया।

पुलिस उच्चाधिकारियों को लिखित शिकायत की, लेकिन न्याय नहीं मिला

इसके बाद चेनाराम ने इसकी शिकायत अजमेर रेंज आईजी, नागौर एसपी, नागौर जिला कलेक्टर, एसडीएम रियाबाड़ी व अन्य अधिकारियों को व्हाट्सएप के जरिए भेजी। उन्हें लिखित शिकायत पत्र भी भेजा। लेकिन इन बजरी माफियाओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। पीड़ित चेनाराम का आरोप है कि इस बीच पादूकलां थानाप्रभारी उसे धमकाता रहा। उसे मानसिक प्रताड़ित किया गया। न्याय नहीं मिलने से परेशान होकर वह मंगलवार सुबह करीब 10:30 बजे जयपुर में सिविल लाइंस स्थित सीएम हाउस के गेट नंबर 1 के पास पहुंचा और बोतल में भरा किटनाशक पी लिया।