ALL Rajasthan
भारत में 10,000 के पार पहुंचा आंकड़ा लेकिन यहां छिपे हैं कुछ अच्छे संकेत
April 14, 2020 • Rajkumar Gupta

 नई दिल्ली
भारत में जब 24-25 मार्च की दरम्यानी रात को देशभर में 21 दिनों के संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान हुआ था तब कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 500 के करीब थे। अगले 20 दिनों में यह संख्या 20 गुना बढ़ते हुए सोमवार देर रात 10,000 के आंकड़े को पार गई। पहली नजर में लॉकडाउन के बावजूद इतनी बड़ी तादाद में मामलों का बढ़ना खतरनाक तो लग सकता है लेकिन इन आंकड़ों के पीछे कुछ अच्छी बातें भी छिपी हैं।

भारत 22वां देश जहां 10 हजार से ज्यादा केस
भारत दुनिया का 22वां ऐसा देश है जहां कोरोना वायरस के कुल केस 10 हजार के आंकड़े को पार कर चुके हैं। दूसरी तरफ, प्रति 10 लाख आबादी में संक्रमितों के मामले में भारत की स्थिति बाकी देशों के मुकाबले बहुत ही अच्छी है। यहां 10 लाख आबादी पर औसतन 7 लोग संक्रमित हैं। भारत 10 लाख आबादी पर औसतन 137 टेस्ट कर रहा है। इन आंकड़ों को समझने के लिए अमेरिका, स्पेन का उदाहरण लेते हैं।

यहां छिपे हैं अच्छे संकेत
अमेरिका में प्रति 10 लाख आबादी पर औसतन 1700 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। स्पेन में यह आंकड़ा तो 3500 है। भारत में टेस्टिंग में तेजी के साथ कुल मामलों की संख्या हो सकती है कि कुछ और तेजी से बढ़े। हालांकि, देश में प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमितों की तादाद बहुत कम है, इसलिए अगर कुल मामलों में तेजी से इजाफा हुआ भी तो इस मोर्चे पर भारत की स्थिति में कोई खास बदलाव नहीं आने वाला है।

प्रति 10 लाख आबादी पर संक्रमितों की संख्या बहुत कम
इसके अलावा एक और महत्वपूर्ण और अच्छी बात है भारत के लिए। यह है देश में कोरोना के मामलों के दोगुना होने में लगने वाला वक्त। आम तौर पर इस पैमाने पर ही किसी संक्रमण की गंभीरता का आंकलन किया जाता है। पिछले महीने तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज में हुए मजहबी जलसे की वजह से भले ही देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं, लेकिन राहत की बात यह है कि डबलिंग रेट धीरे-धीरे कम हो रहा है।

अब 6 दिन से ज्यादा वक्त में दोगुने हो रहे केस
इस महीने की शुरुआत में जब 7 अप्रैल को भारत में कोरोना के 5000 केस हुए थे, तब यह औसतन 4 दिनों में दोगुना हो रहा था। लेकिन उसके बाद इसे 10 हजार के आंकड़े तक पहुंचने में 6 दिन से थोड़े ज्यादा का वक्त मिला यानी फिलहाल देश में कोरोना के मामले 6 दिनों में दोगुने हो रहे हैं। सोमवार को कोरोना के मामले में बहुत ज्यादा तेजी हुई। एक ही दिन में 1200 मामले बढ़े लेकिन यहां राहत की बात यह है कि ये मामले हॉटस्पॉट्स से इतर नहीं बढ़े हैं। सोमवार के 1200 नए मामलों में 700 से ज्यादा तो सिर्फ दिल्ली और महाराष्ट्र के थे।