ALL Rajasthan
बिहार: लॉकडाउन में मछली पार्टी करना पड़ा भारी, मंत्री के PA और SDPO समेत 30 के खिलाफ केस दर्ज
April 19, 2020 • Rajkumar Gupta

जहानाबादकोरोना वायरस को लेकर देशभर में लॉकडाउन घोषित किया है, ऐसे में बिहार के जहानाबाद में मछली पार्टी करने के आरोप में शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने लिया कड़ा फैसला लेते हुए शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। उनके साथ-साथ मछली पार्टी में शामिल होने को लेकर जहानाबाद के एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है।

शिक्षा मंत्री के निजी सहायक पर मछली पार्टी का आरोप
दरअसल, बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के निजी सहायक (PA) पिंटू यादव ने लॉकडाउन के दौरान जहानाबाद में अपने नए घर में मछली पार्टी का आयोजन किया। जानकारी के मुताबिक, इसमें जहानाबाद के एसडीपीओ समेत कई अधिकारी और स्थानीय लोग शामिल हुए थे। अब इस मछली पार्टी को लेकर शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पुलिस मुख्यालय के आदेश पर कार्रवाई शुरू हो गई है।

डीजीपी के कहने पर की गई कार्रवाई
पूरे मामले में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कड़ा फैसला लेते हुए शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव और जहानाबाद के एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश दिया है। मखदुमपुर के सीओ (सर्किल ऑफिसर) राजीव रंजन, बीडीओ (ब्लॉक डेवलेपमेंट ऑफिसर) अनिल मिस्त्री समेत करीब 25 से 30 लोगों पर भी FIR दर्ज की गई है। शिक्षा मंत्री के स्टाफ पिंटू यादव को हिरासत में लेकर जहानाबाद के एसपी उनसे पूछताछ भी कर रहे हैं।

करीब 30 लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया मामला
पूरे मामले में मखदुमपुर थाना कांड 129/19 के तहत सभी पर IPC की धारा 188, 269, 270 और 271 सेक्शन 51B, 56, 57 और आपदा एक्ट 2005 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। टेहटा थाना के एसएचओ बैरिस्टर पासवान के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। खुद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मंत्री के स्टाफ और एसडीपीओ पर एफआईआर करने का कड़ा फैसला लिया।