ALL Rajasthan
बिहार: लॉकडाउन पर राजनीति-कोटा में फंसे बेटे को सड़क मार्ग से पटना लाए भाजपा विधायक, प्रशांत किशोर ने नीतीश से पूछा-अब क्या कहती है आपकी मर्यादा
April 19, 2020 • Rajkumar Gupta

पटना. देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच भाजपा विधायक अनिल सिंह अपने बेटे को कोटा से सड़क मार्ग के द्वारा बिहार लेकर आ गए। इस पर भाजपा विधायक ने सफाई देते हुए कहा कि मेरा बेटा कोटा में परेशान था। मैंने लॉकडाउन का उल्लंघन नहीं किया है और जिला प्रशासन की अनुमति और सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए ही अपने बेटे को वहां से लाया हूं। मैंने एक पिता की जिम्मेदारी निभाई है।

सरकार के विरोध के बावजूद कोटा से अपने बेटे को लेकर बिहार लौटे भाजपा विधायक के बहाने जदयू के पूर्व उपाध्यक्ष और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने नीतीश पर हमला बोला है। पीके ने ट्वीट कर लिखा कि नीतीश जी अब आपकी मर्यादा क्या कहती है? उन्होंने आगे लिखा कि कोटा में फंसे बिहार के सैकड़ों बच्चों की मदद की अपील को नीतीश जी ने यह कहकर खारिज कर दिया था कि ऐसा करना लॉकडाउन की मर्यादा के खिलाफ होगा। अब उन्हीं की सरकार ने भाजपा विधायक के बेटे को कोटा से लाने के लिए विशेष अनुमति दी।

कोटा से छात्रों को लाने पर नीतीश ने जताया था कड़ा aऐतराज
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों को वापस लाने के लिए बसें भेजी थी। इसका नीतीश कुमार ने पुरजोर विरोध करते हुए था कि ऐसे में लॉकडाउन का क्या मतलब रह जाएगा। राजस्थान भेजे गए बसों की परमिट रद्द कर देनी चाहिए। कोटा में बिहार के भी हजारों छात्र फंसे हैं। छात्रों ने सोशल मीडिया के जरिए नीतीश से वापस बुलाने की मांग की थी।