ALL Rajasthan
देशभर में अब तक 8356 केस मिले हैं जिनमें से 273 की जान जा चुकी है-अब तक 1,86,906 की जांच और 4.3 प्रतिशत केस पॉजिटिव
April 12, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पिछले 24 घंटे में सामने आए कोरोना केस और तैयारियों की पूरी जानकारी पेश की। वहीं ICMR ने बताया कि अब तक 1,86,906 सैंपल टेस्ट किए गए हैं जिनमें से 4.3 फीसदी पॉजिटिव पाए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रटरी लव अग्रवाल ने कहा, 'इस परेशानी से पूरी दुनिया जूझ रही है। हमारा शुरू से प्रयास अडवांस ऐक्शन पर रहा है। हम तैयारियों के मामले में इस खतरनाक वायरस से एक कदम आगे चल रहे हैं। आप सभी इसमें सहयोग करें। देश हर स्थिति से लड़ने के लिए तैयार हैं। इस लड़ाई में सरकार के सभी अंग और प्राइवेट सेक्टर शामिल हैं। इसमें सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण आम लोगों का सहयोग है। बहुत जरूरी है कि हम सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करें।'
24 घंटे में 34 लोगों की मौत
स्वास्थ्य मंत्रालय ने पिछले 24 घंटे के आंकड़े पेश किए। मंत्रालय के मुताबिक अब तक 8356 कोरोना के पॉजिटिव केस मिले हैं। कल से आज तक 909 नए मामले सामने आए हैं वहीं 273 लोगों की मौत हो गई है। पिछले 24 घंटे में इस खतरनाक वायरस से 34 जिंदगियां निगल लीं। स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रटरी ने बताया कि पॉजिटिव न्यूज ये है कि अब तक 716 लोग इस खतरनाक वायरस से निजात पा चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। कल से आज तक 74 लोग ठीक हुए हैं और उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

टेस्टिंग बढ़ाने पर फोकस
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सरकार का ध्यान चांज बढ़ाने पर है। इसके लिए देशभर में 14 इंस्टिट्यूट मार्क किए गए हैं। इस समय देश का फोकस पॉजिटिव पेशंट के क्लीनिकल मैनेजमेंट पर और प्रोटोकॉल फॉलो करने पर है। अग्रवाल ने कहा, 'हमारी रणनीति क्या है? हम लोगों ने अपने कोविड केसेज को अनैलाइज किया। लगभग 80 प्रतिशत केस ऐसे होते हैं जो कोविड केयर सेंटर में ट्रीट किए जाते हैं। इसके अलावा कुछ का कोविड हेल्थकेयर सेंटर में इलाज होता है। क्रिटिकल केस को कोविड हॉस्पिटल में ले जाया जाता है जहां वेंटिलेटर और आईसीयू फैसिलिटी होती है।'

पटना पुलिस मंडी और बाजारों में भले ही सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन नहीं करवा पा रही हो, लेकिन कोविड-19 कॉल सेंटर पर खुद इसका पालन कर रहे हैं।

तैयारियों में एक कदम आगे
लव अग्रवाल ने कहा कि सरकार एक कदम आगे की तैयारी कर रही है। उन्होंने कहा, 'अगर हम केस देखें तो 29 मार्च को 979 पॉजिटिल केस थे। आज 8000 से ज्यादा केस हैं। इसमें से करीब 20 प्रतिशत केस हैं जिनको आईसीयू सपॉर्ट की जरूरत होगी। आज भी हमारे पास 1671 ऐसे मरीज हैं जिनको आईसीयू की जरूरत होगी। स्प्षट रहें कि सरकार तैयार है और सिचुएशन को हैंडल कर सकती है। 29 मार्च को 163 अस्पताल में 41900 बेड अवेलेबल थे। 4 अप्रैल को 67 हजार बेड उपलब्ध थे। 9 अप्रैल को 1000 बेड की जरूरत थी तो 85 हजार बेड उपलब्ध थे थे। आज हमारे पास 602 अस्पतालों में 1 लाख 5 हजार बेड उपलब्ध हैं।'

अग्रवाल ने उदाहरण देते हुए बताया, 'केरल में 950 से ज्यादा काएक अस्पताल बनाया गया है। अहमदाबाद में 1200 बेड का अस्पताल कोविड के लिए मार्क किया गया है। इस तरह हर शहर में डेडिकेटेड हॉस्पिटल बनाया गया है। कटक में 150 बेड का हॉस्पिटल तैयार है। मुंबई में 700 बेड वाला सदर्न हॉस्पिटल है। इस लड़ाई में प्राइवेट सेक्टर को भी शामिल किया गया है। अपोलो अस्पताल में भी 4 टेस्टिंग लैब बनाई गई है और 400 बेड डेडिकेट किए हैं। मैक्स हॉस्पिटल ने भी 200 बेड कोविड के लिए निर्धारित किए हैं। मिलिटरी ने 9000 के करीब बेड मार्क किए हैं और इनको बढ़ाने की भी योजना है।'

रोज हो रहे 16 हजार टेस्ट
ICMR की तरफ से बताया गया कि देश में 129 टेस्टिंग फैसिलिटी सेंटर हैं। आज 2 बजे तक 1,86,906 सैंपल टेस्ट किए गए जिनमें से 7953 यानी 4.3 प्रतिशतक पॉजिटिव केस मिले। पिछले पांच दिनों में औसत रूप से 16 हजार से ज्यादा टेस्ट किए जा रहे हैं जिसमें से औसतन 584 पॉजिटिव केस मिल रहे हैं।

गृह मंत्रालय ने कहा, साइबर क्राइम से ऐसे निपटें
गृह मंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा, इंटर स्टेट और इंट्रास्टेट ट्रांसपॉर्ट में सामान को ले जाने में कोई रोक नहीं है। गोदाम में सामान स्टोर किया जा सकता है। स्टेट अथॉरिटी को सुनिश्चित करना है कि जरूरी सामान को बनाने वाले मजदूरों को सुचारु रूप से पास मिले जिससे इन यूनिट्स में बाधा न आए। उन्होंने कहा, 'आजकल वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। ऐसे में ऑनलाइन ट्रांजैक्शन हो रहा है। गृह मंत्रालय 'साइबर दोस्त' के जरिए आपको उपयोगी राय दे रहा है। साइबर दोस्त ट्विटर हैंडल को फॉलो करें। cybercrime.gov.in पर साइबर क्राइम रिपोर्ट कर सकते हैं।'

5000 ट्रेन कोच वॉर्ड के रूप में तैयार
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया ऑर्डिनंस फैक्ट्री ने अरुणाचल प्रदेश में 50 टेंट लगाए हैं। एक टेंट में दो मरीज आ सकते हैं और उनका इलाज किया जा सकता है। पब्लिक सेक्टर यूनिट भी काम कर रही है। एचएएल ने बेंगलुरु में अस्पताल के बेड कोविडके लिए निर्धारित किए गए हैं। 5000 ट्रेन कोच को आइसोलेशन वॉर्ड के रूप में तैयार किया गया है। 

6 राज्य और 2 केंद्र शासित प्रदेशों के हाल

    महाराष्ट्र, संक्रमित- 1909: यहां रविवार को 148 कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। इनमें से मुंबई में 113, मीरा भयंदर में 7, पुणे में 4, नवीं मुंबई, ठाणे और वसई विरार में 2-2, जबकि रायगढ़, अमरावती, भिवंडी और पिंपरी-चिंचवड़ में 1-1 मरीज मिला। राज्य में शनिवार को 187 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आईं।


    मध्यप्रदेश, संक्रमित- 581: यहां रविवार 52 नए मामले सामने आए। इनमें से इंदौर में 49 और भोपाल में 3 मरीज मिले। इंदौर में अब संक्रमितों की संख्या 298 और भोपाल में 134 हो गई है। इंदौर में कोराना से आज 2 और भोपाल में 1 मौत दर्ज की गई। इंदौर में दोनों मौत पहले हुई थीं, रिपोर्ट रविवार को पॉजिटिव आई। दोनों की उम्र 65 और 70 साल थी। भोपाल में रविवार को जान गंवाने वाले मरीज की उम्र 77 साल थी। वे डायबिटिक थे।
    उत्तरप्रदेश, संक्रमित- 464: राज्य में कुल संक्रमितों में से 264 तब्लीगी जमात से संबंधित हैं। शनिवार को बहराइच में 21 जमातियों का क्वारैंटाइन का समय खत्म होने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। इनमें इंडोनेशिया और थाईलैंड के नागरिक भी शामिल हैं। इस बीच, राज्य सरकार ने रामपुर से सपा सांसद आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी को अपने कब्जे में ले लिया है। यहां क्वारैंटाइन सेंटर बनाया जाएगा।


    राजस्थान, संक्रमित 796: यहां रविवार को 96 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें से जयपुर में 35, बांसवाड़ा में 15, टोंक में 11, बीकानेर, और जोधपुर में 8-8, कोटा में 7, नागौर में 5, हनुमानगढ़ में 2, जबकि चूरू, जैसलमेर और सीकर 1-1 मरीज मिले हैं। 2 मरीज राज्य से बाहर के हैं। राज्य में शनिवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 139 नए लोग पॉजिटिव मिले थे। इनमें से जयपुर में 80 रिपोर्ट पॉजिटिव थीं। 
    बिहार, संक्रमित- 64: पटना मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल से शनिवार को 72 साल की कोरोना संक्रमण की संदिग्ध फरार हो गई। उसका सैम्पल ले लिया गया था। जांच रिपोर्ट का इंतजार है। पीएमसीएच ने महिला के लापता होने की लिखित सूचना पुलिस को दे दी है। महिला सीवान की रहने वाली थी। राज्य में शनिवार को चार मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

दिल्ली, संक्रमित- 1069: निजामुद्दीन मरकज में जुटी तब्लीगी जमात को देश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने की बड़ी वजह माना जा रहा है, लेकिन अब केजरीवाल सरकार ने अपने हेल्थ बुलेटिन से मरकज कैटेगरी हटा दी है। इसकी जगह अंडर स्पेशल ऑपरेशंस लिखा जा रहा है। मरकज के लोगों के आंकड़े अलग लिखे जाने पर दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने आपत्ति जताई थी। 
गुजरात, संक्रमित- 493: यहां रविवार को 25 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें से 23 मरीज अहमदाबाद में और 2 आणंद में मिले हैं। राज्य में शनिवार को 90 संक्रमित मिले थे। यहां सबसे ज्यादा 251 संक्रिमित अहमदाबाद में और इसके बाद 77 वडोदरा में हैं। 

    जम्मू-कश्मीर, कुल संक्रमित- 224: बड़गाम के शेखपोरा में शनिवार को एक व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने पहुंची मेडिकल टीम को घर में बंधक बना लिया गया। मौके पर पुलिस पहुंची तो उस पर पथराव कर दिया गया। इसमें 3 पुलिसकर्मी घायल हो गए। हालांकि, उन्होंने स्वास्थ्य कर्मियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। शनिवार रात कुपवाड़ा में भी एक व्यक्ति पर केस दर्ज किया गया। उस पर दिल्ली की मरकज में जाने की बात छिपाने का आरोप है। जम्मू-कश्मीर में शनिवार को संक्रमण के 17 मामले सामने आए।

सोमवार से केंद्रीय मंत्री और आला अफसर कामकाज शुरू कर सकते हैं
इस बीच, सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि केंद्र सरकार ने सभी मंत्रियों से सोमवार से कामकाज संभालने और लॉकडाउन खत्म होने के बाद अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की योजना बनाने को कहा है। सरकार ने सभी मंत्रालयों ने अपने विभागों के संयुक्त सचिव और उससे वरिष्ठ पदों वाले अफसरों से भी कामकाज संभालने और विभाग में एक तिहाई जरूरी स्टाफ को बुलाने को कहा है।