ALL Rajasthan
गुड न्यूज: सोमवार को देश में ठीक हुए 705 कोरोना मरीज, एक दिन में यह अब तक का सबसे ज्यादा आंकड़ा
April 21, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
देश में कोरोना वायरस तेजी से अपना पैर पसार रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अब तक देश में संक्रमण के 18,601 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से 590 लोगों की मौत भी हो चुकी है। हालांकि, इस बीच एक अच्छी और राहत भरी खबर यह है कि अब लोग तेजी से ठीक भी हो रहे हैं। देश में अब तक 3,252 मरीज इलाज के बाद पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। अकेले सोमवार को 705 मरीज ठीक हुए जो देश में किसी भी एक दिन में कोरोना (Coronavirus) से मुक्त होने वालों का सबसे बड़ा आंकड़ा है।
देश में ठीक होने वालों का सिंगल डे रेकॉर्ड
पिछले कुछ दिनों से कोरोनामुक्त होने वाले लोगों की तादाद भी बढ़ रही है। कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की जंग में यह बहुत ही शुभ संकेत है। पिछले कुछ दिनों के आंकड़े को देखें तो 15 अप्रैल को 183 लोग ठीक हुए थे। अगले दिन यानी 16 अप्रैल को यह संख्या बढ़कर 260 हो गई। 17 अप्रैल को 243 लोग कोरोना से मुक्त हुए तो 18 अप्रैल को 239 लोग। इसी तरह 19 अप्रैल को 316 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हुए। 20 अप्रैल को रेकॉर्ड 705 लोगों ने कोरोना वायरस से मुक्ति पाई।

तारीख कोरोना से ठीक हुए मरीज
15 अप्रैल  183
16 अप्रैल 260
17 अप्रैल 243
18 अप्रैल 239
19 अप्रैल 316
20 अप्रैल 705

महाराष्ट्र में 572, दिल्ली में 431 हुए ठीक
बात अगर राज्यों के हिसाब से करें तो कोरोना की सबसे ज्यादा मार झेल रहे महाराष्ट्र में 572 लोग अब तक पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में यह आंकड़ा 431 है। केरल में 408 मरीजों में से 291 अब ठीक हो चुके हैं।

केरल में 291, तमिलनाडु में 457 मरीज हुए ठीक
इसी तरह बिहार के कुल 113 मरीजों में से 42 अब तक ठीक हो चुके हैं। यूपी की बात करें तो यहां के 1184 मरीजों में से अब तक 140 इलाज के बाद स्वस्थ हो चुके हैं। तमिलनाडु में यह आंकड़ा 457, राजस्थान में 205, तेलंगाना में 190, मध्य प्रदेश में 127, गुजरात में 131 और हरियाणा में 127 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं।

रिकवरी रेट में केरल देश में टॉप
रिकवरी रेट के मामले में केरल देश में टॉप पर है। केरल में कुल 294 केस क्लोज हुए यानी जिसमें मरीज या तो ठीक हुआ या फिर उसकी मौत हुई। इनमें से 291 इलाज के बाद ठीक हो गए जबकि 3 मरीज नहीं बचाए जा सके। यानी केरल में रिकवरी रेट 98.97 है। इसी तरह तमिलनाडु में रिकवरी रेट 96.5 प्रतिशत है। 
राजस्थान में भी 90 प्रतिशत से ऊपर रिकवरी रेट
राजस्थान में भी 90 प्रतिशत से ज्यादा रिकवरी रेट है। वहां क्लोज केसेज में से 92.9 प्रतिशत इलाज के बाद ठीक हो जाने वालों के हैं। कर्नाटक में रिकवरी रेट 87.4 प्रतिशत, यूपी में 86.4, महाराष्ट्र में 69.5, मध्य प्रदेश में 64.5, गुजरात में 62.5 और दिल्ली में 61.5 प्रतिशत है।