ALL Rajasthan
इन्फेक्शन घटा, पर मौतें जारी, उलझा रहीं कोराना की यह नीली-पीली रेखाएं
April 21, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
कोरोना की चाल दुनिया को हर दिन उलझा रही है। कभी कोरोना की घटती रफ्तार खुश करती है, तो कभी फिर अचानक उसकी तेजी डराने लगती है। पिछले सात दिनों की कोरोना की चाल का विश्लेषण करें तो यह कुछ खुश, तो कुछ निराश करती है। राहत की बात यह है कि भारत में कोरोना के संक्रमण के मामलों में कमी आ रही है। लेकिन परेशान करने वाली बात यह है कि कोरोना से मौतों का आंकड़ा घट नहीं रहा। 
भारत समेत कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 5 देशों में स्थिति में सुधार तो आया है, लेकिन इस जानलेवा बीमारी से बढ़ती मौतों ने परेशानी जरूर पैदा की है। भारत में कोरोना के कारण सरकारी आंकड़े के अनुसार 590 लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 30 हजार के पार पहुंच चुका है।

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस और जर्मनी में मौतों की संख्या में कमी नहीं आई है। सबसे ज्यादा मौतों का अगर सप्ताहिक औसत पर देखें तो इटली में हर सप्ताह करीब 13.2 लोगों की मौत हो रही है। फ्रांस में 12.8 जबकि स्पेन में 10.3 लोग कोरोना के कारण हर सप्ताह मर रहे हैं। अमेरिका में 5.4 जबकि भारत में यह औसत महज 3.2 का है। जर्मनी में हर सप्ताह करीब 3.2 लोग मर रहे हैं। 
इन्‍फेक्‍शन रेट पर लगातार बढ़ रहे कोरोना केस
भारत के अलावा कोरोना वायरस से सबसे ज्‍यादा प्रभावित पांच और देशों- अमेरिका, इटली, स्‍पेन, फ्रांस और जर्मनी में नए मामलों आने कम हुए हैं। हालांकि भारत में इन सभी के मुकाबले ज्‍यादा तेजी से मामले आ रहे हैं। भारत अगर सप्ताहिक औसत पर नजर डालें तो हर सप्ताह 9.8 केस आ रहे हैं। 
मौतों के आंकड़े में कमी नहीं
हालांकि, जिस तरीके से नए मामलों में कमी आ रही है वैसे ही कोरोना से मौतों के आंकड़ों में कमी नहीं आई है। बल्कि मौत की संख्या में थोड़ी बढ़ोतरी ही देखी जा रही है। मौतों के आंकड़े से बीमारी की तीव्रता का पता चलता है। अभी कोरोना महामारी का प्रकोप जारी है तो ऐसे में विशेषज्ञों की मौजूदा मौत के आंकड़ों पर किसी निष्कर्ष पर पहुंचने को लेकर में अलग-अलग राय है। 
कोरोना से मौत, उम्र के हिसाब से जानें आंकड़ा
कोरोना से देश में 550 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। मरने वालों में सभी उम्र के लोग हैं। कोरोना से पीड़ित 0-45 साल के करीब 14.4 फीसदी लोगों की मौत इस जानलेवा बीमारी से हुई है। 45-60 साल के 10.3% लोगों की मौत कोविड-19 से हुई है। 60-75 वर्ष के 33.1 प्रतिशत लोग कोरोना के कारण मारे गए हैं। सबसे ज्यादा 75 साल से ज्यादा उम्र के लोग इस जानलेवा बीमारी के कारण जान गंवा चुके हैं। इस उम्र के 42.2% लोगों की मौत हुई है।