ALL Rajasthan
जयपुर के सामोद में कोरोना- जमानत पर छूटा एक और कैदी दूसरी रिपोर्ट में पाया गया पॉजिटिव, गांव की सभी सीमाएं की गईं सील
May 22, 2020 • Rajkumar Gupta

सामोद। सामोद थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत कानपुरा की सेंट्रल जेल जयपुर से 19 मई को जमानत पर छूटे कस्बा निवासी कोरोना पॉजिटिव मिला है। प्रशासन ने संक्रमित को एम्बुलेंस से शुक्रवार को निम्स हॉस्पिटल भिजवाया और आसपास के क्षेत्र को प्रतिबंधित घोषित कर गांव की सभी सीमाओं को एक बार फिर सख्ती के साथ सील कर दिया गया। 

जानकारी के अनुसार 45 वर्षीय एक निजी स्कूल के डायरेक्टर को 16 जनवरी को स्कूल की एक नाबालिग छात्रा के साथ छेड़छाड़ करने के मामले में 26 फरवरी को जेल भेजा गया था। वह 19 मई को जमानत पर रिहा होकर घर लौटा था। गत दिनों जिला सेंट्रल जेल में से एक कैदी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन ने जेल से छूटे बंदियों की जांच करवाना शुरू किया था। इसी के तहत छेड़छाड़ के इस आरोपी की भी सैंपलिंग हुई। 
 
सामोद चिकित्सा अधिकारी डॉ सुभाषचंद्र जाट ने बताया कि इस व्यक्ति की 12 मई को जेल में सैंपलिंग की गई थी, तब इसकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी और 21 मई को प्रशासन ने एक बार फिर सैंपलिंग की तो 22 मई को रिपोर्ट पॉजिटिव आई।
जेल से छूटने के बाद से ही क्वारैंटाइन पर था

सीएचसी प्रभारी डॉ. सुभाष जाट ने बताया यह जेल से बाहर आने के बाद से ही अपने निजी स्कूल में ही क्वारैंटाइन था। ऐसे में किसी भी व्यक्ति के संपर्क में नहीं आया। फिर भी प्रशासन ने एहतियात के तौर पर स्कूल के करीब 200 मीटर के दायरे में रहने वाले सभी लोगों की स्क्रीनिंग की है। चिकित्सा विभाग की टीम ने कानपुरा गांव के करीब आठ घरों का सर्वे कर 45 लोगों को होम क्वारैंटाइन किया है। साथ ही स्क्रीनिंग भी शुरू कर दी है। 

डेहरा, कानपुरा, महार कला के तीनों गावों को किया सील
सामोद थाना एसएचओ हरबेन्द्र सिंह ने बताया कि छह मई को कानपुरा के डेहरा कस्बा निवासी 38 वर्षीय व्यक्ति हथकढ़ शराब के मामले में जयपुर जेल से रिहा होकर आया था। उसकी 14 मई को कोरोना की पोजिटिव रिपोर्ट आई। इसके बाद 18 मई को ग्राम पंचायत महारकलां निवासी 75 वर्षीय वृद्ध की रिपोर्ट पॉजिटिव आई और 22 मई को छेड़छाड़ के आरोपी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।