ALL Rajasthan
कोरोना देश में अब तक संक्रमण के 14864 मामले, इनमें से 1992 मरीज ठीक हुए, कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर 14%
April 18, 2020 • Rajkumar Gupta

यह तस्वीर मध्यप्रदेश के अशोकनगर की है। यहां शुक्रवार को एक युवक सरकारी राशन लेने के लिए लाइन में लगा था। धूप बर्दाश्त करने लायक नहीं थी। इसलिए उसने अपना कृत्रिम पैर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए बनाए गए गोले में रखा और खुद छाया में जाकर बैठ गया। 
नई दिल्ली. केंद्र सरकार के मंत्रालयों की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में शनिवार को बताया गया कि देश में अब तक 1991 कोरोना संक्रमित ठीक हो चुके हैं। यह कुल संक्रमितों का लगभग 14% है। मंत्रालय ने यह भी बताया कि देश में इस बीमारी से मौत की दर 3.3% है। यानी हर 100 संक्रमितों में से 3 से 4 लोगों की मौत हो रही है। 0-45 साल की उम्र के मरीजों में मृत्यु दर 14.4%, 45-60 साल की उम्र में 10.3% और 60-75 साल के लोगों में 33.1% है। 75 साल से अधिक उम्र के लोगों में यह दर 42.2% है। 

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 14,864 हो गई है। शनिवार को गुजरात में 173, मध्यप्रदेश में 45, राजस्थान में 53, पश्चिम बंगाल में 32, आंध्रप्रदेश में 31, हरियाणा में 4, उत्तराखंड और मेघालय में 2, जबकि अंडमान-निकोबार में एक मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। ये आंकड़े covid19india.org और राज्य सरकारों से मिली जानकारी के अनुसार हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में 14,378 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। इनमें से 11,906 का इलाज चल रहा है, 1,991 ठीक हो चुके हैं, जबकि 480 की मौत हुई है।
6 राज्य, 1 केंद्र शासित प्रदेश के हाल

    मध्यप्रदेश, संक्रमित- 1355: यहां शनिवार को 45 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। राज्य में संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित इंदौर में कोरोना के मरीजों की संख्या 892 हो गई है। अब निगाहें भोपाल पर हैं। शुक्रवार को शहर से 1 हजार 317 सैंपल विशेष विमान से दिल्ली भेजे गए। लगभग इतने ही सैम्पल और भेजे जाने हैं। राज्य की कुछ रिपोर्ट पहले से पेंडिंग है। कुल 4 हजार 996 रिपोर्ट का इंतजार है।
    महाराष्ट्र, संक्रमित- 3320: लॉकडाउन में घरेलू हिंसा के मामेल बढ़ रहे हैं। ऐसे में पुणे जिला परिषद ने एक अनोखा फैसला किया है। इसके तहत कोई भी व्यक्ति घरेलू हिंसा के मामलें में दोषी पाया जाता है, तो उसे 14 दिन के क्वारैंटाइन किया जाएगा। राज्य में शुक्रवार को 118 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थीं। 

    राजस्थान, संक्रमित 1270: राज्य में शनिवार को संक्रमण के 41 मामले आए, जबकि 2 मरीजों की मौत हो गई। जान गंवाने वाले दोनों संक्रमितों में से एक को किडनी की और दूसरे को डायबिटीज की गंभीर समस्या थी। राज्य में शुक्रवार को संक्रमण के 98 नए केस आए थे। 
    उत्तरप्रदेश, संक्रमित- 936: राज्य में कुल कोरोना संक्रमितों में से 570 तब्लीगी जमात से हैं। ऐसे में जौनपुर डीएम ने ऐलान किया है, जो भी छिपे हुए जमातियों की जानकारी देगा, उसे 5100 रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। कोरोना टेस्टिंग के लिए अब तक कुल 24,643 सैम्पल भेजे गए, जिनमें से 23,648 की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई। 146 की रिपोर्ट आना बाकी है।


    बिहार, संक्रमित-85: लॉकडाउन के दौरान लोगों को बाहर आने से रोकने में पुलिस और प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। नालंदा जिले में स्क्रीनिंग के लिए गई मेडिकल टीम को 32 जगह विरोध का सामना करना पड़ा। लोगों ने टीम के साथ मारपीट भी की है। वहीं, मुंगेर के जमालपुर में 17 दिन से छिपकर रह रहे 7 जमाती पकड़े गए हैं।


गुजरात, संक्रमित- 1272: राज्य में शनिवार को 173 कोरोना संक्रमित मिले। इनमें से अहमदाबाद में 143, सूरत 16, वडोदरा में 8, राजकोट और भावनगर में 2-2, जबकि आणंद और भरूच में 1-1 व्यक्ति पॉजिटिव पाया गया। राज्य में शुक्रवार शाम 6 बजे से शनिवार सुबह तक 7 संक्रमितों की मौत भी हुई है। यहां इस बीमारी से अब तक 48 लोग जान गंवा चुके हैं।
दिल्ली, संक्रमित- 1767: स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को बताया कि यहां 67 रिपोर्ट कल देर रात पॉजिटिव आईं। अभी अस्प्ताल में 911 मरीज हैं। इनमें से 27 आईसीयू में और 6 वेंटिलेटर पर हैं। जैने ने कहा कि हमें 42,000 रैपिड टेस्ट किट मिली हैं। इन्हें रविवार से कंटेनमेंट जोन में इस्तेमाल किया जाएगा।
सुप्रीम कोर्ट में शनिवार को एक जनहित याचिका लगाई गई। इसमें मांग की गई है कि लॉकडाउन की वजह से दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों में से जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है, उन्हें सुरक्षित तरीके से उनके गृह राज्य जाने की अनुमति दी जानी चाहिए। उन्हें जरूरी परिवहन सुविधा भी मुहैया कराई जानी चाहिए।