ALL Rajasthan
कोरोना पॉजिटिव 50 साल के मजदूर की बाइक पर ले जाते समय मौत, दो दिन पहले तबियत बिगड़ने पर अस्पताल में ग्लूकोज चढ़ाकर दे दी गई थी छुट्टी
May 18, 2020 • Rajkumar Gupta

शव को बॉडी किट में लपेट कर अंतिम संस्कार के लिए भेजा गया। इस दौरान परिजनों और मेडिकल टीम को पीपीई किट पहनाकर एंबुलेंस से हांसपुर में सीधे श्मशान घाट ले जाया गया। 
सीकर. (मुकेश नवहाल). जिले के श्रीमाधोपुर के गांव हांसपुरा में एक कोरोना पॉजिटिव 50 साल के व्यक्ति की मौत हो गई। उसे तेज बुखार और सांस लेने में हुई दिक्कत के बाद सोमवार सुबह बाइक पर अस्पताल लाया जा रहा था। श्रीमाधोपुर सीएचसी पहुंचने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। व्यक्ति डायबिटीज की बीमारी से ग्रसित था। इसके बाद आई जांच रिपोर्ट में व्यक्ति पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद पूरे गांव में हड़कंप की स्थिति है। 

जानकारी अनुसार, 50 साल का व्यक्ति 11 मई को महाराष्ट्र से गांव लौटा था। तबियत खराब होने पर 16 मई व्यक्ति को सीएचसी में भर्ती करवाया गया था। जहां ग्लूकोज चढ़ाकर और दवाई देकर डिस्चार्ज कर दिया गया। इस दौरान उनके कोरोना सैंपल भी लिए गए। सोमवार सुबह व्यक्ति को तेज बुखार के साथ सांस लेने में दिक्कत हुई। परिजन उसे बाइक पर बैठाकर सीएचसी के लिए रवाना हुए। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।  

रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पहले हुआ अंतिम संस्कार

एहतियात के तौर पर मृतक के शव को बॉडी किट में लपेट कर अंतिम संस्कार के लिए भेजा गया। इस दौरान मौजूद परिजनों और मेडिकल टीम को पीपीई किट पहनाकर एंबुलेंस से हांसपुर में सीधे श्मशान घाट के लिए रवाना किया गया। इसी दौरान सैंपल की आई रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव मिला। कस्बे व स्वास्थ्य विभाग में हडक़ंप की स्थिति बनी। पुलिस प्रशासन और मेडिकल की टीम की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया।  मृतक के संपर्क में लोगों को आइसोलेट करने और प्रभावित क्षेत्र को सैनिटाइज करने की कवायद शुरू कर दी है।

30 साथियों के साथ मुंबई से आया था

मौत होने से पहले वह महाराष्ट्र में मजदूरी करता था। वह महाराष्ट्र से राजस्थान बस से पहुंचा था। इसमें वह अपने 30 साथियों के साथ यहां लौटा था। चालक परिचालक सहित बस में 32 लोग मौजूद थे। इनमें से करीब आधा दर्जन यात्री श्रीमाधोपुर के बताए जा रहे हैं।