ALL Rajasthan
कोरोना संकट के बीच सोनिया ने बुलाई विपक्षी दलों की मीटिंग
May 20, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
कोरोना संकट के दौर में महामारी के चलते उपजे हालात पर चर्चा करने के लिए आगामी शुक्रवार यानी 22 मई को देश के तमाम राजनैतिक दल आपस में बैठक करने जा रहे हैं। कांग्रेस की ओर से बुलाई गई यह मीटिंग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी, जिसकी अध्यक्षता कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी।

तमाम राजनैतिक दलों को संदेशा
सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस ने इस मीटिंग के लिए देश के तमाम राजनैतिक दलों को संदेशा भेजा है। पार्टी की ओर से इसमें सभी गैर एनडीए दलों को बुलाने की कवायद की गई है। अहम सूत्रों की ओर से इसमें 28 राजनीतिक दलों के भाग लेने का दावा किया गया है।

प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा पर विशेष नजर
बताया जाता है कि मीटिंग के मुख्य अजेंडे में कोविड-19 से उपजे हालातों से निपटने में सरकार की नाकामी, प्रवासी मजदूरों की दुर्दशा और उनकी समस्याएं और सरकार द्वारा उनका सही तरह से निराकरण न कर पाना, मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ों रुपए के आर्थिक पैकेज की असलियत जैसे तमाम मुद्दे शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस प्रवासी मजदूरों की समस्याओं, कोविड-19 बीमारी से निपटने की सरकार की रणनीति और आर्थिक पैकेज को लेकर लगातार सरकार पर निशाना साधती रही है।

कोरोना के कारण देश के हालात पर होगी चर्चा
शुक्रवार की दोपहर तीन बजे बुलाई गई इस मीटिंग के बारे में लेफ्ट के एक सीनियर नेता का कहना था कि इसमें कोविड-19 के चलते देश में बने हालात से लेकर देश के राजनैतिक हालात व इकोनामी की बदहाली तक पर चर्चा होगी। कहा जा रहा है कि इसमें एनसीपी, डीएमके, आरजेडी, लेफ्ट, शिवसेना, एसपी ,बीएसपी, नेशनल कॉन्फ्रेंस, टीडीपी, टीएमसी, आईयूएमएल, लोकतांत्रिक जनता दल, आरएलडी ,आरएलएसपी जैसे दल भाग ले सकते हैं।