ALL Rajasthan
कोरोना वायरस से जंग में रेमडेसिविर दवा के चमत्‍कारिक परिणाम सामने आए हैं
April 17, 2020 • Rajkumar Gupta

वाशिंगटन
दुनिया में कोरोना वायरस का सबसे बड़ा गढ़ बन चुके अमेरिका में रोज-रोज मौतों का रेकॉर्ड बन रहा है। अ‍मेरिका में इस महामारी से अ‍ब तक 34 हजार से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई है और 678,144 लोग संक्रमित हैं। इस वैश्विक महासंकट के बीच कोरोना से जंग में एक दवा के चमत्‍कारिक परिणाम सामने आए हैं। इबोला के खात्‍मे के लिए तैयार की गई इस ऐंटी वायरल दवा का नाम है रेमडेसिविर।
अमेरिका के शिकागो शहर में कोरोना वायरस से गंभीर रूप से बीमार 125 लोगों को रेमडेसिविर दवा दी गई जिसमें से 123 लोग अब ठीक हो गए हैं और उन्‍हें डिस्‍चार्ज कर दिया गया है। अमेरिकी समाचार पत्र डेली न्‍यूज के मुताबिक दवा के इस परीक्षण का यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो के संक्रामक बीमारियों की विशेषज्ञ कैथलीन मुलेन और उनके साथी इसका नेतृत्‍व कर रहे हैं।

'ज्‍यादातर हमारे मरीज अब डिस्‍चार्ज'
मुलेन को पहले कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाया गया था। मुलेन ने कहा, 'सबसे अच्‍छी खबर यह है कि ज्‍यादातर हमारे मरीज अब डिस्‍चार्ज हो चुके हैं। यह बहुत अच्‍छी बात है। केवल दो मरीज ही अब अस्‍पताल में हैं। हम देख रहे हैं कि जिन मरीजों में बहुत ज्‍यादा बुखार है, उनका बहुत जल्‍दी ठीक हो जा रहा है। इस दवा को देने के बाद हमने लोगों को एक दिन के अंदर वेंटिलेटर से हटते देखा है। इसलिए मैं कह सकता हूं कि हमारे लगभग सभी मरीजों का स्‍वास्‍थ्‍य ठीक हो गया।'

 रेमडेसिविर दवा से भले ही 123 लोग ठीक हो गए हों लेकिन अभी भी इसको लेकर काफी शोध की जरूरत है। साथ ही कोरोना वायरस के प्रभावी इलाज के लिए अभी बहुत सी सूचनाओं की जरूरत है। हालांकि पहली नजर में देखें तो इस जादुई दवा से मरीजों का ठीक होना पूरी दुनिया के लिए एक शुभ संकेत है। इससे पहले फरवरी में विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक डॉक्टर ने कहा था कि फिलहाल सिर्फ एक ड्रग है जो हमें लगता है कि प्रभावी हो सकता है और वह है रेमडेसिविर।"

इबोलो के ड्रग के रूप में किया गया था विकसित
 रेमडेसिविर दवा को इबोलो के ड्रग के रूप में विकसित किया गया था लेकिन समझा जाता है कि इससे और भी कई तरह के वायरस मर सकते हैं। अमेरिका के वाशिंगटन राज्‍य में कोरोना से जंग जीतने वाली एक महिला ने अपना निजी अनुभव शेयर करते हुए बताया था कि दवा रेमडेसिविर की मदद से उनके पति कोरोना से ठीक हो गए थे। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने ऐलान किया था कि रेमडेसिविर एक ऐसी दवा है जिससे कोरोना के खात्‍मे की संभावना देखी जा रही है।