ALL Rajasthan
कोटा में फंसे हैं हरियाणा के 858 छात्र, उन्हें लाने के लिए 31 बसों को रवाना किया गया
April 23, 2020 • Rajkumar Gupta

चंडीगढ़/पानीपत. हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए राजस्थान के कोटा में कोचिंग के लिए गए हुए हरियाणा के 858 छात्रों को लाने के लिए रोडवेज बसें भेजी हैं। इसके लिए रेवाड़ी और नारनौल डिपो से हरियाणा रोडवेज की बसें 31 बसें गई हैं। इसकी जानकारी हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने दी है। 
हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि 858 छात्रों को लाने के लिए 31 बसें रवाना की गई हैं। 

उन्होंने बताया कि कोटा कोचिंग का हब है। यहां हरियाणा के बहुत से छात्र कोचिंग लेने जाते हैं। लॉकडाउन के चलते वहां 858 छात्र फंसे हुए हैं। सरकार ने इन्हें इनके घरों में पहुंचाने का फैसला लिया है। जिसके चलते गुरुवार को हरियाणा रोडवेज के रेवाड़ी डिपो से 16 व नारनौल डिपो से 15 रोडवेज बसों को कोटा के लिए रवाना किया गया है। इसके अलावा कुछ बसों को आरक्षित भी रखा गया है। अगर जरूरत पड़ी तो शुक्रवार को अतिरिक्त बसों को भी रवाना किया जा सकता है। बसें शुक्रवार को वहां से वापस आएंगी। इन बच्चों को उनके घरों तक छोड़ा जाएगा।

उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश ला चुके हैं अपने छात्रों को 

सबसे पहले कोटा में फंसे छात्रों को लाने की पहल उत्तर प्रदेश सरकार ने की थी। पिछले हफ्ते चार हजार से ज्यादा छात्रों को रोडवेज बसों से कोटा से निकालकर उत्तर प्रदेश में उनके घरों तक पहुंचाया गया। इसके बाद मध्यप्रदेश सरकार ने भी अपने यहां के वहां फंसे छात्रों को ले आई है। मुख्यमंत्री गहलोत ने बताया था कि कोटा में फंसे बच्चों को सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकारों से लगातार बात की जा रही है।