ALL Rajasthan
कुंड में डूब रहे भाई को बचाने आई बहन फिर मां भी फिसली, तीनों की लाशें बाहर आईं
May 18, 2020 • Rajkumar Gupta

नोखा.. बीकानेर जिले की नोखा तहसील के अणखीसर गांव में स्थित पानी की डिग्गी (छोटा कुंड) में डूबने से मां-बेटा और बेटी की संदिग्ध मौत हो गई। भाई को बचाने के प्रयास में उसकी बहन और दोनों बच्चों को बचाने के प्रयास में मां भी कुंड में डूब गई,  जिससे तीनों की मौत हो गई।

एसएचओ अरविंद सिंह शेखावत ने बताया कि अणखीसर के रामधन ने रामेश्वर कुलरिया का खेत बिजाई करने के लिए ले रखा था। सोमवार सुबह वह गांव गया था। उसकी पत्नी गुड्डी (35) चाय बना रही थी। पुत्री मनीषा (8) और पुत्र रामस्वरूप (5) खेत में पेड़ों में पानी दे रहे थे। रामस्वरूप डिग्गी से पानी लेकर आ रहा था, तभी वहां जमा काई में उसका पैर स्लिप हो गया और वह डिग्गी में डूबने लगा। उसकी बहन मनीषा उसे बचाने पहुंची तो वह भी डूबने लगी। बच्चों के चिल्लाने की आवाज सुनकर गुड्डी दौड़कर आई और वह भी बच्चों को निकालने के प्रयास में डूब गई।

दूर खड़े उसके ससुर ने ग्रामीणों को मदद के लिए आवाज लगाई। खेत मालिक सहित ग्रामीण वहां पहुंचे तब तक तीनों की मौत हो गई। सूचना मिलने पर सीओ नेम सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और गांव के मनफूल, पुलिस कांस्टेबल देवाराम, सतीश आदि ने शवों को निकाला। पुलिस ने बागड़ी रेफरल अस्पताल में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।