ALL Rajasthan
मारुति ने दिया 1.5 लाख मास्क बनाने का कपड़ा, 13500 महिलाओं को मिला काम
May 15, 2020 • Rajkumar Gupta

गुड़गांव
गुड़गांव में सेल्फ हेल्प ग्रुप्स में काम करने वाली महिलाओं को मास्क बनाने में सहायता करने हुए जिला प्रशासन ने मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड से 10 हजार मीटर कपड़ा दिलवाया है। यह कपड़ा कंपनी की ओर से जनरल मैनेजर कॉरपोरेट ऐंड गवर्नमेंट अफेयर्स जीपी चड्डा ने अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पंवार को उनके कार्यालय में भेंट किया।
कपड़े के मास्क सबसे सेफ
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अब हर व्यक्ति को घर से बाहर निकलते समय मास्क पहनना जरूरी है। कपड़े से बना मास्क सबसे अधिक सुरक्षित और उपयुक्त माना गया है। इसी कड़ी में सेल्फ हेल्प ग्रुप की सदस्य महिलाओं के लिए कपड़ा मुहैया करवाने का आग्रह मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड से किया गया था।

1.50 लाख मास्क बनेंगे
कंपनी ने सीएसआर के तहत कपड़ा उपलब्ध करवाया है, जिससे डेढ़ लाख से अधिक मास्क बनाए जा सकेंगे। इस कपड़े से महिलाएं मास्क सिलकर देंगी, जो इनकी आजीविका में सहायक होगा। उन्होंने बताया कि जिले में हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविक मिशन के तहत लगभग 1250 स्वयं सहायता समूह कार्यरत हैं जिनमें प्रत्येक में 10 से 20 महिलाएं सदस्य हैं।

13,500 महिलाओं को मिला काम
इस तरह लगभग 13,500 महिलाएं इन समूहों के साथ जुड़ी हुई हैं। पंवार ने बताया कि जिला में हीरो मोटो कॉर्प की ओर से भी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं से फेस मास्क तैयार करवाए जा रहे हैं। बनाने की एवज में 5 रुपये प्रति मास्क के हिसाब से रकम दी जा रही है।