ALL Rajasthan
मनरेगा पर मोदी का पुराना वीडियो शेयर कर राहुल गांधी ने कसा तंज
May 18, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मनरेगा योजना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘यू-टर्न’ की आलोचना की है। उन्होंने साथ ही मनरेगा के मकसद समझने और इसके लिए 40 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बजट आवंटित करने के लिए मोदी को धन्यवाद दिया। राहुल गांधी ने कहा, ‘प्रधानमंत्री ने यूपीए के जमाने की योजना मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बजट मंजूर किया है। हम उनके आभारी हैं कि उन्होंने मनरेगा के मकसद को समझा और इसे बढ़ावा दिया।’कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने इसके साथ मोदीयूटर्नऑनमनरेगा हैशटेग का इस्तेमाल किया। इसके साथ उन्होंने मोदी के संसद में दिए गए एक बयान का वीडियो भी शेयर किया। मोदी ने 2014 में पहली बार प्रधानमंत्री बनने के बाद संसद में यह भाषण दिया था। इसमें उन्होंने मनरेगा पर कांग्रेस की कड़ी आलोचना की थी।


मोदी ने तब कहा था, ‘मनरेगा आपकी नाकामियों का एक जीता जागता स्मारक है।’ उन्होंने कांग्रेस की नीतियों की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि आजादी के 60 साल बाद भी लोगों को गड्ढे खोदने पड़ रह रहे हैं।

मनरेगा के लिए अतिरिक्त बजट
सरकार ने कोरोना महमारी और लॉकडाउन के कारण सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये का आत्मनिर्भर भारत पैकेज घोषित किया था। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने इसकी पांचवी और आखिरी आर्थिक किस्त के तहत महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MGNREGA) के लिए 40 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बजट आवंटित किया। उन्होंने कहा कि इससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अधिक से अधिक अवसर उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी। बजट में सरकार ने मनरेगा के लिए 61 हजार करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे।

सीमारमण ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते अधिकांश प्रवासी मजदूर अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं। ऐसे में गांवों में उनके लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने मनरेगा के तहत अतिरिक्त आवंटन का ऐलान किया है। मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपए के अतिरिक्त आवंटन से कुल 300 करोड़ मानव दिवस के काम पैदा किए जा सकेंगे।