ALL Rajasthan
मुख्यमंत्री गहलोत की ओर से अजमेर दरगाह और पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर में रोज पेश किए जा रहे हैं फूल
May 6, 2020 • Rajkumar Gupta

 


दरगाह में बिना कांटे के पिंक गुलाब भेजे जा रहे हैं। दरगाह में बिना कांटे के पिंक गुलाब भेजे जा रहे हैं।

अजमेर. कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार चिकित्सा सेवा के साथ ही लॉकडाउन और कर्फ्यू समेत विभिन्न व्यवस्थाएं कर रही है। इसके साथ ही प्रदेश व देश के नागरिक इस महामारी से सुरक्षित रहें, इसके लिए प्रदेश के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर भी फूल पेश कर रहे है। अजमेर में पुष्कर स्थित ब्रह्मा मंदिर और रंगजी के मंदिर के साथ ही अजमेर दरगाह में भी सीएम अशोक गहलोत की ओर से फूल पेश किए जा रहे हैं।

महात्मा ज्योतिबा फुले राष्ट्रीय जागृति मंच एवं फूल मंडी जिला अजमेर के अध्यक्ष पूनम चंद मारोठिया इस सेवा को अंजाम दे रहे हैं। मारोठिया ने कहा नियमित रूप से ख्वाजा साहब की दरगाह में दोपहर खिदमत के समय 5 किलो फूल पेश किए जा रहे हैं। फूलों की यह थैली गरीब नवाज की दरगाह में जाने वाली फूलाें की सेज के अलावा है। यह व्यवस्था पिछले कुछ दिनों से ही जारी की गई है। मारोठिया ने बताया कि पुष्कर स्थित ब्रह्मा मंदिर और पुराने रंगजी के मंदिर में भी प्रतिदिन सीएम की ओर से मालाएं पेश कराई जा रही हैं। इसके साथ ही गेगल स्थित प्रसिद्ध खोड़ा गणेश मंदिर में भी इसकी शुरूआत कर दी गई है।

ऐसे हुई शुरूआत
मारोठिया ने कहा कि सीएम गहलोत से हुई चर्चा के दौरान उन्हाेंने गरीब नवाज के दर और पुष्कर में फूल पेश करने की इच्छा जाहिर की थी। उसी के अनुरूप यह सिलसिला शुरू कराया गया है। दरगाह में बिना कांटे के पिंक गुलाब भेजे जा रहे हैं। ब्रह्मा मंदिर और पुराने रंगजी के मंदिर में मालाएं बनवा कर भगवान के अर्पित की जा रही है। इसके पीछे एक ही मंशा है कि हमारे प्रदेश और देश से यह खतरनाक बीमारी जल्द से जल्द खत्म हो। सभी नागरिक सुरक्षित रहें। देश में खुशहाली वापस लौटे, जो लोग बेरोजगार हो गए हैं, वे वापस रोजगार में जुटे।