ALL Rajasthan
मुंबई में चोर निकला कोरोना पॉजिटिव, 24 पुलिसवाले और कोर्ट स्टाफ क्वारंटीन
April 28, 2020 • Rajkumar Gupta

मुंबई
मुंबई में कोरोना का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है। अब यहां एक चोरी के आरोपी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद 24 लोगों को क्वारंटीन किया गया है जिसमें गोरेगांव वेस्ट स्थित बांगुरनगर पुलिस थाने के अधिकारी और मैजिस्ट्रेट कोर्ट के 2 स्टाफर भी शामिल हैं। 22 साल के इस युवक को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अब उसके संपर्क में आने वाले हर शख्स की जांच की जाएगी।

कोर्ट में ले जाने और पुलिस कस्टडी में एक दिन बिताने के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। उसे तलोजा जेल ले गाया था। हालांकि जेल सुपरिंटेंडेंट ने उसे अंदर रखने से इनकार कर दिया क्योंकि उसका कोविड-19 टेस्ट नहीं हुआ था। इसके बाद पुलिस ने उसकी जांच कराई जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव निकला।

जेल से फरार होने वाले कैदियों को ढूंढा जा रहा
नाम न बताने की शर्त में एक पुलिस अधिकारी ने बताया, 'जैसे ही उसे कोरोना की पुष्टि हुई, उसके संपर्क में आने वाले सभी लोगों को घर पर क्वारंटीन में ही रहने को कहा गया।' अधिकारी ने बताया कि पुलिस अब दो लोगों को ढूंढ रही है जो जेल से फरार हो गए थे क्योंकि उन्हें भी संक्रमण होने की आशंका है और इससे दूसरों के जीवन को भी खतरा पहुंच सकता है।

दुकानदार पर हमला करके 3500 रुपये चुराए
पुलिस सूत्रों के मुताबिक, संक्रमित युवक का एक क्रिमिनल रिकॉर्ड है और पुलिस के निर्वासित किए जाने के बाद गोरेगांव वेस्ट में रह रहा था। 20 अप्रैल को वह और उसके दो दोस्त नजदीक की एक पान दुकान से सिगरेट चुराने गए थे। सूत्रों ने बताया कि तीनों ने दुकानदार पर चाकू से हमला करके 3500 रुपये कैश लेकर फरार हो गए थे।

जेल में सभी कैदियों के लिए कोविड-19 टेस्ट अनिवार्य
दूसरे दुकानदारों और रास्ते से गुजरने वालों ने दौड़कर तीनों में से एक को पकड़कर लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। दुकानदार की शिकायत पर एफआईआर दर्ज हुई। अगले दिन उसे बोरिवली मैजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया और जेल भेजने का आदेश मिला। तलोजा जेल ने यहां आने वाले सभी कैदियों के लिए कोविड-19 टेस्ट को अनिवार्य कर दिया है। साथ ही शुरुआत के 14 दिन का क्वारंटीन में रहने का आदेश है।