ALL Rajasthan
ऑनलाइन सोना खरीदने से पहले ये 5 बातें जान लीजिए
April 24, 2020 • Rajkumar Gupta

नई दिल्ली
अक्षय तृतीया पर सोने की खरीदारी का विशेष महत्‍व होता है, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इस दिन बहुमूल्य धातु की खरीदारी से घर में धन-संपत्ति की कभी कमी नहीं होती। हालांकि, इस बार स्थिति थोड़ी अलग है। कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए किए गए देशव्यापी लॉकडाउन के कारण दुकानें बंद हैं, इसलिए आप इस दिन फिजिकल गोल्ड नहीं खरीद पाएंगे। हालांकि कुछ कंपनियां हैं, जो अपनी वेबसाइटों के जरिए सोना बेच रही हैं, लेकिन इसकी डिलीवरी आपको लॉकडाउन खत्म होने यानी 3 मई के बाद ही मिल पाएगी।

इस बार ऑनलाइन का विकल्प
अगर आप इस अक्षय तृतीया पर सोना खरीदना चाहते हैं तो आपको इसे ऑनलाइन खरीदना होगा। इसकी वजह यह है कि कोरोना के चलते लॉकडाउन में देशभर के सर्राफा बाजार बंद हैं। ऑनलाइन सोना खरीदने के कई विकल्प हैं। इनमें गोल्ड एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (ETF), सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (SGBs) और फिजिकल गोल्ड शामिल हैं। आपको इन विकल्पों में किसी एक चुनाव बुद्धिमानी से करना चाहिए, क्योंकि प्रत्येक की अलग-अलग विशेषताएं हैं। सोने की कीमतें पिछले कुछ महीनों में बढ़ी हैं। 23 अप्रैल को एमसीएक्स पर 24 कैरेट सोना लगभग 47,300 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा था।

बैंक बाजार डॉट कॉम के सीईओ आदिल शेट्टी ने कहा, 'पिछले 15 महीनों में काफी वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता रही है। इसलिए सोने की कीमतों को काफी तेजी दिखी है। 2011 के बाद से सोने के दाम काफी स्थिर थे, लेकिन पिछले कुछ महीने से सोने के दाम 30 फीसदी चढ़े हैं। इसलिए इस अक्षय तृतीया के मौके पर सोना खरीदने से पहले, आपको यह जानना चाहिए कि क्या यह सोने को खरीदने का सही समय है? अगर आपको सोना खरीदना चाहिए तो कितना खरीदना चाहिए। आइए सबसे पहले सोने की कीमतों के बारे में जानते हैं।

2. क्यों बढ़ रही है सोने की कीमत?
सोने की कीमतें आम तौर पर आर्थिक अनिश्चितता, महंगाई दर बढ़ने, राजनीतिक अस्थिरता और शेयर बाजार में अस्थिरता के दौरान बढ़ती हैं। बैंक ऑफ बड़ौदा के मुख्य अर्थशास्त्री समीर नारंग ने कहा कि आम तौर पर, सोना वित्तीय अस्थिरता की अवधि में अच्छा निवेश माना जाता है। जब अन्य संपत्ति आर्थिक अनिश्चितता के कारण अपनी वैल्यू खो रही होती हैं, तब यह अच्छा रिटर्न देता है। उन्होंने कहा कि जब अमेरिकी फेडरल रिजर्व ब्याज दरों में कमी करता है और अस्थिरता को कम करने और वित्तीय स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए राहत पैकेजों की घोषणा करता है तो भी सोने की कीमतें बढ़ जाती हैं।

3. इस अक्षय तृतीया पर सोना खरीदना चाहिए?
आज कोरोना के दौर में हमारी बचत को बचाने में कोई भी निवेश सक्षम नहीं है। हालांकि, इस तरह की स्थिति में क्या सोना बाजार की अस्थिरता से बचाने में आपकी मदद कर सकता है? नारंग ने कहा कि अमेरिकी फेड द्वारा बहुत अधिक लिक्विडिटी डालने से और वैश्विक विकास के पूर्वानुमान के बाद से महामंदी के संकेत हैं। ऐसे समय में सोना छोटी और मध्यम अवधि में एक आकर्षक एसेट क्लास दिख रहा है। नारंग ने कहा, 'जब तक अमेरिकी फेडरल रिजर्व अपनी ब्याज दरें दोबारा से बढ़ाने की तरफ नहीं जाता है, तब तक सोने की कीमतों में बढ़ोतरी जारी होगी।'

विशेषज्ञों के अनुसार, सोना लंबी अवधि में अच्छा प्रदर्शन करेगा। शेट्टी ने कहा, 'मौजूदा वैश्विक आर्थिक अनिश्चितताओं का दौर आगे भी दिख सकता है, ऐसे में निवेशकों को मौजूदा स्तरों पर भी सोने में निवेश से अच्छा रिटर्न मिल सकता है। प्लान रुपी इन्वेस्टमेंट सर्विसेज के संस्थापक अमोल जोशी ने कहा, 'जब शेयरों में गिरावट जारी है, सोना निवेशकों को लुभा सकता है। इसके अलावा, पिछले साल के मुकाबले सोने की कीमत बढ़ी है, जिससे यह निवेशकों को आकर्षित कर रहा है।'

सोना खरीदने से पहले, आपको पता होना चाहिए कि आपके निवेश पोर्टफोलियो में सोने के अनुपात को आपके वित्तीय लक्ष्यों, रिटर्न की उम्मीदों, तरलता की जरूरतों और जोखिम के प्रकाश में देखा जाना चाहिए। वित्तीय विशेषज्ञों के अनुसार, आपके निवेश पोर्टफोलियो में सोने के प्रति लगभग 5 फीसदी आवंटन होना आदर्श स्थिति हो सकती है।

4. लॉकडाउन के बीच ऑनलाइन सोना खरीदें
अक्षय तृतीया के त्योहार के दिन आप इन तरीकों से सोना खरीद सकते हैं।

फिजिकल गोल्ड
सोने को जूलरी के तौर पर फिजिकल फॉर्म में खरीदा जा सकता है। हालांकि, इसमें क्वॉलिटी, सुरक्षा और ज्‍यादा कॉस्‍ट की चिंता रहती है। जानकार फिजिकल फॉर्म में सोने में निवेश की सलाह नहीं देते हैं।

सोने के सिक्के या बिस्कुट खरीदें
सोने को जूलर, बैंक और अन्‍य माध्‍यम से सिक्‍के या ब‍िस्‍कुट के रूप में भी खरीदा जा सकता है। इसमें हॉलमार्क को देख लेना जरूरी है, लेकिन इसमें भी सुरक्षा से जुड़ी चिंताएं रहती हैं।

एक्‍सचेंज ट्रेडेड-फंड (ETF)
ईटीएफ सोने को खरीदने का सबसे किफायती तरीका है। इसमें सोने को पेपर फॉर्मेट में एक्‍सचेंजो पर खरीदा और बेचा जा सकता है। ईटीएफ की यूनिटें भुनाने पर टैक्‍स लगता है।

सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड (SGB)
इस पीली धातु में निवेश का एक तरीका सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड भी हैं। यह बॉन्‍ड सरकार जारी करती है। कुछ महीनों के अंतराल पर इसकी पेशकश की जाती है। यह सोने में लंबी अवधि के निवेश के लिए अच्‍छा विकल्‍प है। ऐसे बॉन्‍ड को भुनाने पर टैक्‍स देनदारी भी नहीं बनती है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 की पहली सीरीज सब्सक्रिप्शन के लिए सोमवार से शुक्रवार तक खुली है। सरकार डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए 50 रुपये प्रति ग्राम का डिस्काउंट दे रही है। इस तरह, डिजिटल मोड में पेमेंट करने पर निवेशकों को एक ग्राम सोने के लिए ₹4,589 रुपये का भुगतान करना होगा।

डिजिटल गोल्‍ड
डिजिटल गोल्‍ड ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म के जरिए सोने में निवेश का एक तरीका है। इस फिजिकल गोल्‍ड को सेंट्रली सुरक्षित रूप से स्‍टोर किया जाता है। इसे फिजिकल गोल्‍ड के तौर पर भुनाया या वेंडर को दोबारा बेचा जा सकता है।

5. फिजिकल गोल्ड में ऑफर्स

तनिष्क

टाटा समूह के आभूषण ब्रांड तनिष्क ने रविवार को इस साल अक्षय तृतीय पर ऑनलाइन बिक्री पर जोर देने की बात कही। कोरोना वायरस के सामुदायिक फैलाव को रोकने के लिए देशभर में जारी लॉकडाउन के चलते कंपनी ने यह निर्णय किया है। तनिष्क ने एक बयान में कहा कि उसका अक्षय तृतीय का विशेष ऑफर 18 से 27 अप्रैल तक जारी रहेगा। उसकी वेबसाइट www.tanishq.co.in पर जाकर ग्राहक इसका लाभ उठा सकते हैं। कंपनी ने कहा कि एक बार स्थिति सामान्य होने के बाद ग्राहकों के पास स्टोर से अपने ऑर्डर को उठाने या घर पर डिलीवरी का विकल्प उपलब्ध होगा।

कल्याण जूलर्स
आभूषण विक्रेता कंपनी कल्याण ज्वेलर्स ने लॉकडाउन के चलते अक्षय तृतीया के उपलक्ष्य में इस साल स्वर्ण स्वामित्व प्रमाणपत्रों की ऑनलाइन बिक्री करने की तैयारी की है। कंपनी ने रविवार को इसकी घोषणा की। कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि ग्राहक दो ग्राम से ऊपर सोने की खरीद कर सकते हैं। उन्हें अक्षय तृतीया के दिन उनके द्वारा बताए गए प्लेटफॉर्म के माध्यम से स्वर्ण स्वामित्व प्रमाणपत्र भेज दिया जाएगा। इस साल अक्षय तृतीया 26 अप्रैल को है। ग्राहकों की मांग को देखते हुए स्वर्ण प्रमाणपत्र का समाधान निकाला गया है। कंपनी 21 अप्रैल से अपनी वेबसाइट के जरिए स्वर्ण प्रमाणपत्रों की बिक्री शुरू करेगी।

सेनको गोल्ड ऐंड डायमंड्स
सेनको गोल्ड ऐंड डायमंड्स गोल्ड रेट पर डिस्काउंट ऑफर कर रही है। कंपनी 22 अप्रैल से लेकर 27 अप्रैल तक चलने वाले ऑफर में कंपनी प्रति ग्राम 400 रुपये का डिस्काउंट ऑफर कर रही है।

मालाबार गोल्ड ऐंड डायमंड्स
वहीं, मालाबार गोल्ड ऐंड डायमंड्स गोल्ड जूलरी के मेकिंग चार्जेज पर 30% डिस्काउंट के अलावा, यह वादा कर रही है कि जब उसकी दुकानें खुल जाएंगी तो वह ग्राहकों को बुकिंग रेट से कम पर सोने का जेवर देगी।

डब्ल्यूएचपी जूलर्स
डब्ल्यूएचपी जूलर्स अगले 3 मई तक मेकिंग चार्जेज पर 20% का फ्लैट डिस्काउंट दे रही है।