ALL Rajasthan
पायलट ने कहा-संकट के इस समय में धैर्य रखें तथा चिकित्सा कर्मियों का सहयोग करें-विधायक कोष से तीन वेंटिलेटर जिले के चिकित्सा विभाग को उपलब्ध कराये
April 15, 2020 • Rajkumar Gupta

टोंक, 15 अप्रैल। उप मुख्यमंत्री  सचिन पायलट ने आज टोंक में कोविड-19 के संक्रमण के संबंध में जिले के प्रमुख प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
पायलट ने टोंक में वेंटिलेटर की कमी को देखते हुए विधायक स्थानीय विकास कोष के माध्यम से तीन वेंटिलेटर जिले के चिकित्सा विभाग को उपलब्ध कराये जिन्हें जिला चिकित्सालय, टोंक में स्थापित किया जायेगा।

पायलट ने कहा कि कोरोना महामारी के बाद भी इनका लाभ जिले के निवासियों को मिलता रहेगा तथा चिकित्सीय उपचार में ये उनके लिए उपयोगी साबित होंगे।
पायलट ने ब्रिटेनिया ग्रुप के सहयोग से एक लाख बिस्किट के पैकेट जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाये जो कि क्वारेंटाइन किये गये लोगों को प्रतिदिन वितरित किये जायेंगे तथा जिले में चिकित्सा विभाग की टीमों को उपलब्ध कराये जायेंगे। इस अवसर पर श्री पायलट ने जरूरतमंद परिवारों को अनाज वितरित करने हेतु जाट समाज, धन्ना भगत ट्रस्ट, टोंक की ओर से एक हजार क्विंटल अनाज दिये जाने पर उनका आभार व्यक्त किया।
पायलट ने कर्फ्यू के चलते आमजन को हर संभव सहायता पहुंचाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि कर्फ्यू के कारण आमजन को दूध, सब्जी, किराना का सामान तथा दवाईयों की उपलब्धता में कमी ना आयें। उन्होंने जरूरतमंद लोगों को नियमित रूप से सूखा राशन उपलब्ध करवाने तथा पशुधन के लिए सतत् रूप से चारे की व्यवस्था करवाने के भी निर्देश दिये।
 पायलट ने कोरोना संक्रमितों के सम्पर्क में आने वाले लोगों की शत-प्रतिशत जांचे करवाने के साथ ही कोरोना-19 की अधिक से अधिक जांच करवाने के निर्देश भी दिये। उन्होंने आमजन से अपील की है कि कर्फ्यू का पूर्णतः पालन करें। संकट के इस समय में धैर्य रखें तथा चिकित्सा कर्मियों का सहयोग करें।
बैठक में टोंक के जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक, जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, नगर परिषद् के सभापति एवं आयुक्त, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला रसद अधिकारी मौजूद रहें।