ALL Rajasthan
पहले पालघर, अब बुलंदशहर, कोरोना महामारी के बीच इन दो नेताओं में हिंदुत्व का सिरमौर बनने की होड़
April 28, 2020 • Rajkumar Gupta

लखनऊ
एक ओर पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है, वहीं इन सबके बीच हिंदुत्व को लेकर भी कौन आगे और कौन पीछे वाली लड़ाई चल रही है। इसका अंदाजा महाराष्ट्र के पालघर और उत्‍तर प्रदेश के बुलंदशहर की घटना को देखकर लगाया जा सकता है। इन दोनों जगहों पर दो साधुओं की हत्या हुई है। पालघर की घटना के चार दिन बाद बाद जहां यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को फोन लगाकर सख्‍त कार्रवाई करने को कहा था, वहीं उद्धव ठाकरे ने बुलंदशहर मामले में घंटे भर में ही हिसाब बराबर कर लिया। ऐसे में साफ है कि इन दोनों नेताओं में हिंदुत्व का सिरमौर बनने की होड़ लगी है।
बता दें कि महाराष्ट्र के पालघर में 17 अप्रैल को दो साधुओं समेत 3 लोगों की पीट-पीटकर हत्या के मामले में गुस्सा यूपी तक पहुंच गया था। ऐसे में सीएम योगी आदित्यनाथ ने महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे से फोन पर बात की थी और कसूरवारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। इस बारे में योगी ने ट्वीट किया था कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की ओर से यह बताया गया कि कुछ लोग गिरफ्तार कर लिए गए हैं और शेष को चिह्नित कर सभी के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। यूपी सीएम के इस ट्वीट के बाद हिंदुत्व को लेकर उनकी छवि और मजबूत हुई थी, वहीं हिंदू हृदय सम्राट की छवि वाले उद्धव ठाकरे को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा था।

उद्धव ठाकरे ने किया हिसाब बराबर
मंगलवार सुबह यूपी के बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या का मामला जैसे ही मीडिया में सामने आया तो महाराष्ट्र के सीएम को पलटवार का मौका मिल गया। बुलंदशहर मामले में घंटे भर बाद ही उद्धव ठाकरे ने यूपी सीएम योगी को फोन मिलाया और दो साधुओं की हत्या के मामले में चिंता जताई। हालांकि उन्होंने योगी की तरह इस बात का खुलासा खुद ट्वीट करके नहीं किया। इसकी जानकारी देने के लिए उद्धव ठाकरे के मुखर सिपहसालार संजय राउत आगे आए।


संजय राउत ने कसा बीजेपी पर तंज
सांसद संजय राउत ने बीजेपी समेत यूपी सीएम पर तंज कसते हुए कहा कि भयानक! बुलंदशहर, यूपी के एक मंदिर में दो साधुओं की हत्या, लेकिन मैं सभी से अपील करता हूं कि वे इसे सांप्रदायिक न बनाएं, जिस तरह से कुछ लोगों ने पालघर मामले में करने की कोशिश की। राउत ने बताया कि बुलंदशहर के मंदिर में दो साधु-संतों की हत्या मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने योगी आदित्यनाथ से फोन पर चर्चा की। उन्होंने साधुओं की हत्या को लेकर चिंता व्यक्त की। ऐसी अमानवीय घटना घटती है तब राजनीति न करके हमें एक साथ काम करते हुए अपराधियों को दंडित करवाना चाहिए।


बुलंदशहर की घटना का सीएम योगी ने लिया संज्ञान
वहीं, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर के ग्राम पगोना में हुई साधुओं की हत्या मामले का संज्ञान लिया है। सीएम योगी ने डीएम, एसएसपी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुंचकर घटना के संबंध में दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने निर्देश दिए हैं। इस मामले में राजू नामक एक नशेड़ी को गिरफ्तार किया गया है।