ALL Rajasthan
पंजाब-छत्तीसगढ़ में सीधे घर पहुंचेगी शराब
May 5, 2020 • Rajkumar Gupta

चंडीगढ़
शराब के ठेकों खुलने के बाद लोगों की जुटी भीड़ को देखते हुए पंजाब सरकार (Punjab Govt) ने अब शराब की ऑनलाइन डिलीवरी) का फैसला किया है। हालांकि इसे लेकर सरकार में ही विरोध के सुर उठने लगे हैं। दरअसल, सोमवार से शराब की दुकानें खुलने के बाद में लोगों की लंबी-लंबी कतारों की कई तस्वीरें देखने को मिलीं। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग  गाइडलाइन का पालन चुनौती साबित हो रहा है इसलिए राज्य सरकार शराब की होम डिलिवरी को अनुमति दे सकती है। वहीं छत्तीसगढ़ सरकार ने भी शराब की होम डिलिवरी शुरू कर दी है।
पंजाब कैबिनेट में एक या दो दिन में लिया जाएगा। हालांकि पंजाब सरकार में शराब की ऑनलाइन डिलिवरी को लेकर दो राय सामने आ रही है। पंजाब के कैबिनेट मंत्री त्रिपत रजिंदर सिंह बाजवा ने कहा है कि ऑनलाइन डिलिवरी के खिलाफ हैं। उन्होंने कहा, 'मैं चाहता हूं कि शराब की दुकानों को खोलने की इजाजत देनी चाहिए, मैं ऑनलाइन डिलिवरी के खिलाफ हूं। अंतिम फैसला राज्य कैबिनेट की बैठक में एक या दो दिन में लिया जाएगा।'

शराब की दुकानें बंद होने से 500 करोड़ रुपये का नुकसान
बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने ही सबसे पहले केंद्र को शराब के ठेके खोलने की अनुमति का प्रस्ताव भेजा था। शराब की दुकानें बंद होने से पंजाब को हर महीने 500 करोड़ रुपये का नुकसान का अनुमान है।

सिर्फ लॉकडाउन भर होगी ऑनलाइन डिलिवरी
पंजाब में लॉकडाउन में ढील के दौरान सुबह 9 से दोपहर 1 बजे तक जो दुकानें खोलने की इजाजत है। इसी समय शराब की दुकानें भी खोली जा रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उसके बाद शाम 6 बजे तक शराब की होम डिलिवरी हो सकती है। वहीं पंजाब के एक्साइज विभाग के कमिश्नर का कहना है कि शराब की ऑनलाइन डिलिवरी सिर्फ लॉकडाउन में ही होगी।

छत्तीसगढ़ में शराब की होम डिलिवरी शुरू
छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार ने दुकान में भीड़ कम करने के लिए होम डिलिवरी सेवा शुरू कर दी है। यहां मोबाइल ऐप और वेबसाइट के माध्यम से शराब खरीदी जा सकती है। राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने सोमवार 4 मई से सामाजिक और व्यक्तिगत दूरी का पालन करते हुए राज्य की शराब दुकानों को संचालित करने का निर्देश जारी किया है। राज्य शासन ने सामाजिक दूरी और कोविड-19 के फैलाव को नियंत्रित करने के उद्देश्य से घर पर शराब आपूर्ति की अनुमति प्रदान की है।