ALL Rajasthan
राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा की अपील-राजस्थान में बाहर से आने वाला हर व्यक्ति क्वारेंटाइन के नियमों का पालन करे, तभी सब रहेंगे सुरक्षित
May 13, 2020 • Rajkumar Gupta

जयपुर. देशभर में लॉकडाउन 3.0 के दौरान प्रवासियों का एक राज्य से दूसरे राज्यों में आने-जाने का दौर चल रहा है। राज्यों की सरकार भी इस मुहिम में जुटी हुई है। इस बीच प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि 19 लाख प्रवासी राजस्थानी, प्रवासी श्रमिक और अन्य लोग राज्य से जाएंगे और आएंगे। इनमें से लगभग 6.50 लाख लोगों ने राज्य से बाहर जाने के लिए और बाकी ने राज्य में आने के लिए पंजीकरण करवाया है।

ऐसे में चिकित्सा मंत्री शर्मा का कहना है कि आने वाला समय प्रदेश के लिए काफी अहम है, इसलिए उन्होंने राजस्थान में बाहर से आने वाले व्यक्तियों से अपील की है कि वे क्वारेंटाइन के पीरियड का पालन करें। ताकि प्रदेश और यहां रह रहे लोग सुरक्षित रह सकें। चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सरकार और चिकित्सा विभाग जिला स्तर पर क्वारेंटाइन फैसेलिटी को विकसित और मजबूत करने को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रहे हैं। 
जनप्रतिनिधि क्वारेंटाइन का पालन करवाने में मदद करें

डॉ. शर्मा ने प्रदेश के सभी जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि वे बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को होम या इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाइन में 14 दिन बिताकर गांव-शहर में आना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी प्रतिनिधि जिला प्रशासन के साथ मिलकर सुविधाएं विकसित करवाने में सहयोग करें, ताकि प्रदेशवासियों को कोरोना जैसी महामारी से बचाया जा सके। 

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि बाहर से आने वाले सभी लोगों का स्वागत है, लेकिन वे गांव-मोहल्लों में जाने से पहले क्वारेंटाइन पीरियड का पालन करे, ताकि प्रदेश में पिछले 50 दिनों से घरों में रह रहे लोग संक्रमण से बचे रहें। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए क्वारेंटाइन की सुविधा विकसित करना सुनिश्चित किया जा रहा है।  

25 हजार जांच प्रतिदिन करने का लक्ष्य

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के खिलाफ हर स्तर पर बेहतरीन काम हुआ है। प्रदेश में टेस्टिंग में जबरदस्त इजाफा हुआ है। सैंपलिंग का रेशो भी बेहतर हुआ है। प्रदेश में पॉजीटिव से नेगेटिव की तादाद 60 फीसदी से ज्यादा है तो प्रदेश में कोरोना से होने वाली मृत्यु दर भी राष्ट्रीय दर के मुकाबले कम है। उन्होंने कहा कि सरकार अपने स्तर पर बेहतरीन काम कर रही है, जरूरत आमजन को सजग रहते हुए कोरोना से लड़ना है।