ALL Rajasthan
राजस्थान के इस शख्स की जनसेवा से पीएम मोदी हुए खुश, पत्र लिखकर कही ये बात
April 13, 2020 • Rajkumar Gupta


 जोधपुर
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए केंद्र सरकार की ओर से हरसंभव कोशिश की जा रही है। इसी के मद्देनजर लॉकडाउन का फैसला लिया गया, साथ ही लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इस महामारी को देश से खत्म करने के लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं। साथ ही उनकी नजर उन लोगों पर भी है जो इस मुश्किल दौर में जनसेवा के जरिए जरूरतमंदों को राहत पहुंचाने कवायद में जुटे हुए हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि पीएम मोदी ने राजस्थान के एक शख्स की जनसेवा को देखते हुए उन्हें पत्र लिखकर अपना आभार जताया है।
जोधपुर के रामनिवास मंडा के जज्बे को सलाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिसे ये पत्र भेजा है उनका नाम रामनिवास मंडा है। वो जोधपुर के तिंवरी तहसील स्थित उम्मेदनगर इलाके के रहने वाले है। रामनिवास मंडा ने कोरोना महामारी के इस दौर में अपनी जीवनभर की कमाई, गरीब, जरूरतमंद, विकलांग और घुमंतू लोगों तक मदद पहुंचाने में खर्च कर डाली।

जरूरतमंदों में बांटी रसद सामग्री

जोधपुर के उम्मेदनगर में रहने वाले रामनिवास मंडा ने करीब 6000 सूखी रसद सामग्री के पैकेट तैयार कर तिवरी और ओसिया तहसील के गांव-गांव, ढाणी-ढाणी तक जरूरतमंदों में बांटे। इस बात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामनिवास मंडा को पत्र लिखकर उनके सेवा के जज्बे की जमकर सराहना की है।

पीएम मोदी ने कहा- आपका योगदान सराहनीय

पीएम मोदी ने अपने पत्र में लिखा कि मेरा यह पत्र पाकर जितना आपको आश्चर्य हो रहा है उतनी ही खुशी मुझे ये पत्र लिखने में हुई है। मैंने ये पत्र आपको और आपके परिवार को धन्यवाद देने और अभिनंदन करने के लिए लिखा है। वर्तमान परिस्थिति में देश जिस महामारी (Covid-19) से गुजर रहा उसमें आपका योगदान सराहनीय है। गरीब, दिहाड़ी मजदूर, विकलांग और अत्यंत दयनीय परिवारों को चिन्हित कर उनको राश सामग्री वितरीत की जा रही है। मुझे ये जानकर बहुत खुशी हुई कि आपके द्वार 6000 राशन सामग्री के पैकेट आपके क्षेत्र में वितरण किया जा रहा है। ईश्वर आपकी मनोकामना पूर्ण करें। उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं
6 हजार परिवारों में बांटा रसद

इन दिनों कोरोना जैसी बीमारी से लड़ने के लिए कई सारे लोग योद्धा बन कर सामने आ रहे हैं। मंडा परिवार के रामनिवास मंडा भी पूर्ण रूप से इस कार्य में लगे हुए हैं। ओसियां विधानसभा में 6 हजार परिवारों को रसद बांटने पर लगभग 50 लाख रुपए खर्च आया है, जो मंडा के जीवन भर की जमा पूंजी है। खाद्य सामग्री का एक पैकेट 750 रुपये में तैयार होता है। उसमें आटा, दाल, तेल, नमक, हल्दी, मिर्ची, धनिया, साबुन, बिस्किट, माचिस जैसी दैनिक उपयोग की वस्तुएं दी गईं। रामनिवास मंडा के इस प्रयास की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पत्र लिखकर खुले दिल से प्रशंसा की है।