ALL Rajasthan
राजस्थान: लॉकडाउन फेज-2 का सातवां दिन - संक्रमण के 83 नए केस मिले-राजस्थान में 1659 लोग कोरोना संक्रमित, इनमें से 25 लोगों की मौत हो चुकी, 205 मरीज ठीक हुए-मंगलवार को जयपुर में 63 जयपुर, जोधपुर में 5 और भीलवाड़ा में 4 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई
April 21, 2020 • Rajkumar Gupta

यह तस्वीर जयपुर के परकोटा इलाके की है। यह इलाका शहर में कोरोना का एपिसेंटर है। यहां छोटी-छोटी गलियों को भी तार लगाकर सील कर दिया गया है।
जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। मंगलवार को 83 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें सबसे ज्यादा जयपुर में 63, जोधपुर में 5, भीलवाड़ा में 4, टोंक, दौसा और जैसलमेर में 2-2, पॉजिटिव मिले। इनके अलावा सवाई माधोपुर, नागौर और झुंझुनू में एक-एक संक्रमित मिला। राज्य में अब कुल संक्रमितों की संख्या 1659 हो गई है। वहीं, इस बीमारी से 25 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

उधर, भरतपुर में पुलिस ने सोमवार को बिना मास्क पहने घूम रहे 15 लोगों को गिरफ्तार किया। प्रदेश में संभवत: इस तरह का यह पहला मामला है। यह गिरफ्तारी आईपीसी की धारा-188 और 51 डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 के तहत की गई है। यहां संक्रमण से बचाव के लिए सरकार ने मास्क लगाना अनिवार्य किया है। आदेश का उल्लंघन करने पर एक साल की सजा या जुर्माना या दोनों हो सकता है।

डॉक्टर के पर्चे बगैर सर्दी-खांसी की दवा नहीं मिलेगी
संक्रमण से निपटने के लिए राज्य सरकार ने अब खांसी, जुकाम, बुखार की दवा बिना डॉक्टर के पर्चे के देने पर रोक लगा दी है। अगर कोई व्यक्ति इन लक्षणों के साथ दवा लेने आता है कि केमिस्ट को उसकी सूचना औषधि नियंत्रण अधिकारी को देनी होगी। सरकार का कहना है कि चूंकि सामान्य फ्लू और कोरोना संक्रमण के शुरुआती लक्षण लगभग समान हैं। इसलिए इसकी सूचना होना जरूरी है।
जोधपुर के बलदेव नगर में बाहरी लोगों के बस्ती में आने पर रोक लगा दी गई है। रास्ता बंद करके बांस पर दोपहिया गाड़ी अटका दी है, ताकि कोई रास्ता खोले तो गाड़ी गिर जाए और लोगों को इसका पता चल जाए।

राजस्थान: जयपुर और जोधपुर चिंता बढ़ा रहे, एसएमएस के तीन डॉक्टर और संक्रमित

जयपुर: राजधानी में मंगलवार को 63 नए कोरोना संक्रमित मिले। इसमें प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस हॉस्पिटल के तीन डॉक्टरों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। इसे मिलाकर अब तक एसएमएस के पांच डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं। इससे पहले सोमवार को यहां 50 मामले सामने आए थे। शहर में अब संक्रमितों की संख्या 650 हो गई है। वहीं, सोमवार को शहर के सांगानेर इलाके में 150 रैपिड टेस्ट हुए। इनमें एक ही परिवार के 5 लोग पॉजिटिव मिले। एहतियातन यहां एक किमी एरिया सील करके तीन किमी इलाके को बफर जोन घोषित कर दिया गया है। आशंका है कि रैपिड टेस्ट में संक्रमण के मामले तेजी से सामने आ सकते हैं।

जोधपुर: यहां मंगलवार सुबह 5 और नए पॉजिटिव मरीज मिले। इस तरह शहर में अब तक 312  कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। जोधपुर का पुराना शहर कोरोना का हॉट स्पॉट बना हुआ है। प्रशासन अधिक से अधिक लोगों के सैंपल ले रहा है, ताकि वास्तविक स्थिति सामने आ सके। जोधपुर शहर में सोमवार को 34 संक्रमित मिले थे।

भीलवाड़ा: राज्य में कोरोना का एपिसेंटर रह चुके भीलवाड़ा में मंगलवार को 11 दिन बाद एक साथ 4 पॉजिटिव मिले हैं। इससे सरकार की चिंता बढ़ गई। इससे पहले यहां आखिरी पॉजिटिव केस 10 अप्रैल को सामने आया था। शहर में 2 संक्रमितों की मौत हो चुकी है, जबकि बाकी सभी ठीक होकर घर जा चुके हैं।

बाड़मेर: महिला कॉन्स्टेबल 8 महीने के बच्चे को गोद में लेकर सर्वे में जुटी
कोरोना वॉरियर्स में एक महिला योद्धा ऐसी भी है, जो दोहरा फर्ज अदा कर रही है। बाड़मेर की धोली चौधरी पाली जिले के खिंवाड़ा थाना में कॉन्स्टेबल हैं। उनकी कोरोना सर्वे में ड्यूटी है। वे अपने 8 महीने के बच्चे को गोद में लेकर सर्वे करने जाती हैं।