ALL Rajasthan
राजस्थान: में आज 35 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 17 तब्लीगी जमात से; भीलवाड़ा में 13 अप्रैल तक महाकर्फ्यू
April 3, 2020 • Rajkumar Gupta

जयपुर. राजस्थान में कोरोना संक्रमण के हालात बिगड़ते जा रहे हैं। शुक्रवार को राज्य में संक्रमण के 35 नए केस आए।

इनमें जयपुर में 12 नए पॉजिटिव मिले हैं। सभी तब्लीगी जमात के हैं। टोंक में जिन 12 की रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई है वह सभी पहले पॉजिटिव मिल चुके तब्लीगी जमात के लोगों के परिवार से हैं। बीकानेर में दो, भतरपुर में दो और दौसा में एक तब्लीगी जमात के लोग संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा तीन केस उदयपुर में मिले हैं। वहीं जोधपुर में ईरान से लौटे तीन लोग और संक्रमित मिले हैं। राज्य में अब संक्रमितों की कुल संख्या 166 पर पहुंच गई है। इनमें 31 तब्लीगी जमात के लोग हैं।

निजामुद्दीन मरकज से लौटे जमाती सरकार के लिए बड़ी चिंता बन गए हैं। पिछले तीन दिनों में 31 तब्लीगी और 12 इनके परिवार के लोग संक्रमित मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने तब्लीगी जमात के लोगों से जुड़े लोगों को क्वारैटाइन किया है और लक्षण नजर आने पर उनकी जांच कराई जा रही है। आशंका है कि एक से दो दिन में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ सकती है। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम टोंक पहुंची

राजस्थान के टोंक जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी तेजी से बढ़ रही है। 24 घंटे के अंदर यहां 12 नए मामले सामने आ चुके हैं। हालात का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम पहुंची। टीम के साथ कुछ डॉक्टर भी मौजूद थे। यहां जो 12 मामले सामने आए हैं, वे पहले से ही पॉजिटिव पाए गए तब्लीगी जमात के परिवार वाले हैं। उधर, भीलवाड़ा में हालात सामान्य हैं। पिछले चार दिनों से यहां एक भी कोरोना संक्रमण का मामला सामने नहीं आया है।

भीलवाड़ा में ऑलडाउन, महाकर्फ्यू लगा
राज्य के कोरोना के एपिसेंटर भीलवाड़ा में आज से महाकर्फ्यू लागू कर दिया गया। जो 10 दिन यानी 13 अप्रैल तक लागू रहेगा। शुक्रवार को पहले दिन काफी सख्ती रही। कोई भी घरों से बाहर नहीं निकला। जरूरी सामान की आपूर्ति की प्रशासन को सूचना देने पर होगी। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था पुलिस, आरएसी, होमगार्ड और एसडीआरएफ के 3 हजार जवान तैनात किए गए हैं।

शहर से 2 अच्छी खबर

  • 1847 में से 1515 की रिपोर्ट निगेटिव: भीलवाड़ा में जबसे संक्रमण का मामला शुरू हुआ है, तब से अब तक कुल 1847 सैंपल जांच के लिए भेजे गए। इनमें से 1515 की रिपोर्ट की निगेटिव आई है। जबकि, 306 की रिपोर्ट आना बाकी है। 26 सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। यहां संक्रमण के बांगड़ हॉस्पिटल के डॉक्टर से फैला था। ऐसे में कम्युनिटी स्प्रेड की आशंका बन रही थी। लेकिन, अभी तक ऐसा नहीं हुआ है। जो लोग पॉजिटिव आए हैं वह सभी हॉस्पिटल का स्टाफ हैं या मरीज और उनके परिजन हैं।
  • 24 संक्रमितों में से 15 की रिपोर्ट निगेटिव: शहर में संक्रमण के अब तक 26 मामले सामने आए हैं। इनमें से इलाज के बाद 15 की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन सभी को आइसोलेशन वार्ड से जनरल वार्ड में शिफ्ट कर दिया है। वहीं दो की मौत हो चुकी है। अब 9 लोग पॉजिटिव बचे हैं।
  • कोरोना के कहर के बीच राजस्थान सरकार ने आम लोगों, किसानों और उद्योगों को बिजली-पानी बिल के भुगतान समेत कई बड़ी राहत दीं। सरकार ने 150 यूनिट प्रति माह तक इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं और कृषि कनेक्शन पर मार्च और अप्रैल के बिलों का भुगतान 31 मई तक स्थगित करने का निर्णय किया है। यानी उपभोक्ता इन दो महीनों के बिल का भुगतान जून में कर सकेंगे। इन बिलों का भुगतान मई में जारी होने वाले बिलों की राशि के साथ किया जा सकेगा। इससे 1.05 कराेड़ घरेलू उपभोक्ताओं व करीब 13 लाख किसानों को राहत मिलेगी। यही नहीं, कृषि एवं घरेलू श्रेणियों के सभी उपभोक्ता अगर 31 मई तक बिलों का भुगतान करेंगे तो उन्हें आगामी बिल में भुगतान राशि की 5 प्रतिशत छूट दी जाएगी।
  • चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बताया-तब्लीगी द्वारा नए स्तर पर संक्रमण देखते हुए अब अलग से रैंडम सर्वे शुरू किया जा रहा है। रैपिड किट द्वारा धार्मिक स्थलों, पर्यटक स्थलों का रैंडम सर्वे करवाया जाएगा।
  • राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राजीव स्वरूप ने बताया कि मरकज में प्रदेश से करीब 450 लोग शामिल हुए थे। इनका पता लगाकर  क्वारैंटाइन किया जा रहा है। इनमें जिन लोगों में संक्रमण के लक्षण नजर आए, उनकी जांच कराई जा रही है। लोगों से भी अपील की है कि अगर मरकज से लौटे लोगों के बारे में कोई जानकारी हो तो इसकी सूचना प्रशासन को दें।

सीकर: मरकज से लौटे 18 लोगों और ड्राइवर को आइसोलेशन में भेजा

दिल्ली की मरकज जमात से लौटे 18 लोग और उनके ड्राइवर की पहचान हो गई है। सभी को पचेरी कलां के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया है। बीसीएमओ डॉ. हरीश यादव ने बताया कि उपखंड के खेतड़ी, जसरापुर, नंगली, पपुरना के 18 व्यक्तियों को पचेरी के सिंघानिया यूनिवर्सिटी में बने आइसोलेशन वार्ड में भिजवाया गया है। इनमें एक ड्राइवर भी शामिल है। आरआरटी टीम प्रभारी डॉ. महेंद्र सैनी ने बताया कि खेतड़ी से पहले नौ लोगों की जानकारी सामने आई थी। तलाश की गई तो खेतड़ी से 5, जसरापुर से 8, नंगली से 5 और पपुरना में एक जमाती मिला।

राजस्थान के 17 जिलों में कोरोना, सबसे ज्यादा 53 जयपुर में 
राजस्थान में कुल 33 जिले हैं। इनमें से अब तक 17 जिलों में कोरोना के केस मिल चुके हैं। सबसे ज्यादा केस जयपुर में मिले हैं। यहां अब तक 53 पॉजिटिव मिल चुके। इसके अलावा भीलवाड़ा 26, झुंझुनूं 9, जोधपुर 31 (इसमें 21 ईरान से आए), चूरू 8, टोंक 16, प्रतापगढ़ 2, डूंगरपुर 3, अजमेर 5, अलवर 2, बीकानेर 2, उदयपुर 4, भरतपुर में 3, दौसा, धौलपुर, पाली और सीकर में एक-एक संक्रमित मिला है।