ALL Rajasthan
रवासी श्रमिकों को राहत देने के लिए ठोस नीति बनाने में केन्द्र सरकार रही नाकाम : पायलट
May 19, 2020 • Rajkumar Gupta


जयपुर,। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने आज जयपुर के 200 फीट बाईपास, अजमेर रोड स्थित कमला देवी बुधिया स्कूल, हीरापुरा में संचालित प्रवासी श्रमिक शिविर पहुँचकर प्रवासी श्रमिकों से मुलाकात की तथा उनके परेशानियों को साझा किया। इस अवसर पर परिवहन मंत्री एवं जयपुर शहर जिलाध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरियावास भी उपस्थित रहें।
 पायलट ने कहा कि उत्तरप्रदेश की बॉर्डर पर कांग्रेस पार्टी द्वारा भेजी गई सैकड़ों बसों तथा हजारों की संख्या में खड़ें प्रवासी श्रमिकों को प्रवेश की अनुमति नहीं देकर यूपी सरकार नकारात्मक राजनीति का परिचय दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को अपने घरों पर पहुँचने से वंचित किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।
पायलट ने कहा कि यह समय प्रवासी श्रमिकों के प्रति अपने उत्तरदायित्व को समझने तथा उनके प्रति संवेदनशीलता रखते हुए उनकी पीड़ा को समझने का है। वर्तमान परिस्थिति के चलते प्रवासी श्रमिक बहुत परेशानी में है। इनके दु:ख-दर्द को साझा करना हम सभी का सामाजिक दायित्व हैं। उन्होंने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को अपने-अपने राज्यों में पहुँचाने तथा उनको राहत देने के लिए केन्द्र सरकार कोई ठोस नीति बनाने में नाकाम रही है।
 पायलट ने प्रवासी श्रमिको के शिविर पहुँचकर उन्हें खाद्य सामग्री, बिस्किट्स के पैकेट, पानी की बोतल, फुटवियर आदि उपलब्ध करायें।

पायलट ने प्रवासी श्रमिकों को उनके आगे के सुखद सफर की शुभकामनाएँ देकर उनकी बस को रवाना किया।  पायलट ने वहाँ उपस्थित अधिकारियों को प्रवासी श्रमिकों को सुरक्षित एवं व्यवस्थित तरीके से उनके गतन्वय स्थान पर पहुँचाने के निर्देश भी दिये।