ALL Rajasthan
साजिश के तहत कोरोना फैलाने वालों पर दर्ज होगा हत्‍या के प्रयास का मुकदमा, CM योगी ने दिए निर्देश
May 1, 2020 • Rajkumar Gupta

लखनऊ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को लॉकडाउन (Lockdown) का कड़ाई से पालन कराने की नसीहत देते हुये कहा कि कोरोना संक्रमण को छुपाने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। यदि कोई साजिश के तहत कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलाता है तो उस पर आईपीसी की धारा 307 के तहत हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज जाए। सीएम ने शुक्रवार को अपने आवास पर टीम- 11 (UP Corona team meeting) की बैठक में ये निर्देश दिए।
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यदि कोई सजिश के तहत कोरोना वायरस फैलाता है तो उस पर हत्या के प्रयास मुकदमा दर्ज किया जाए। सीएम योगी ने शुक्रवार को टीम-11 की बैठक में यह निर्देश दिया। उन्होंने कहा बुजर्ग बच्चे या ऐसे व्यक्ति जिनकी मेडिकल हिस्ट्री है, अगर वे कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं तो उन्हें सीधे लेवल-2 या लेवल-3 के अस्पताल में ही भर्ती किया जाए। जिससे उच्च स्तरीय इलाज की सुविधा मिल सके। वहीं कानपुर और आगरा के लिए सीएम ने डिडिकेटेट मेडिकल टीम भेजने के निर्देश दिए।

30 लाख श्रमिकों के खाते में जाएंगे 300 करोड़ रुपए
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज मजदूर दिवस पर श्रमिकों का सम्मान करते हुए 30 लाख श्रमिकों को उनके भरण-पोषण के लिए एक-एक हजार रुपये उनके खाते में ट्रांसफर किए जा रहे हैं। इसके पहले भी 24 मार्च को 5 लाख 97 हजार श्रमिकों के खाते में एक-एक हजार रुपये भेजे गये थे। उन्होंने कहा कि विकास में श्रमिकों का महत्वपूर्ण योगदान है। उनके श्रम को सम्मान देने के लिए ही प्रत्येक वर्ष एक मई को अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस का आयोजन होता है।विकास में उनकी भूमिका के मद्देनजर उनको सम्मान और हर तरह की सुरक्षा देना हमारा फर्ज है. हम वही कर रहे हैं।

बांटा जा रहा निशुल्क राशन
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिकों तथा दिहाड़ी मजदूरों को अंत्योदय मनरेगा श्रमिकों को निशुल्क राशन दिया गया है। आज 1 मई से पुन: खाद्यान्न वितरण प्रारंभ किया जा रहा है। अब तक दिल्ली से करीब चार लाख हरियाणा से 12 हजार प्रवासी श्रमिकों और कामगारों को वापस लाया गया है। इसके साथ मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड व गुजरात से श्रमिकों को वापस लाने की व्यवस्था की जा रही है। 18 करोड़ श्रमिकों और जरूरतमंदों के लिए राशन उपलब्ध कराया गया है।

लखनऊ: हर 4 घंटे में किसी न किसी ने तोड़ा लॉकडाउन

18 करोड़ लोगों को पोर्टेबिलिटी के माध्यम से खाद्यान्न देने की योजना
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम 18 करोड़ लोगों को पोर्टेबिलिटी के माध्यम से खाद्यान्न उपलब्ध कराने की कार्य योजना को आगे बढ़ा रहे हैं। हमने अब तक 2 चरणों में 18-18 करोड़ लोगों को उत्तर प्रदेश के अंदर खाद्यान्न उपलब्ध कराया है। पहले चरण में उत्तर प्रदेश से जुड़े हुए जो हमारे कामगार, श्रमिक, मनरेगा मजदूर और अन्य नागरिक थे, उनको खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया।