ALL Rajasthan
थड़ियों में आग लगाने के विरोध में धरने पर बैठे थे भाजपा कार्यकर्ता, पुलिस ने बलप्रयोग कर खदेड़ा; बल प्रयोग में एक भाजपा कार्यकर्ता का सिर फटा,
February 13, 2020 • Rajkumar Gupta

जयपुर. शहर के मालवीय नगर इलाके में बुधवार देर रात अज्ञात लोगों ने सेक्टर 3, सत्कार शॉपिंग सेंटर के आसपास लगे छह कियोस्क में आग लगा दी। इसके विरोध में गुरुवार को राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष और भाजपा महिला नेता सुमन शर्मा और काफी संख्या में उनके समर्थक धरने पर बैठ गए। पुलिस ने पहले समझाइश कर धरने से उठाने का प्रयास किया। लेकिन इस बीच भाजपा कार्यकर्ताओं की मालवीय नगर थाना पुलिस से तकरार हो गई।

आपस में धक्का-मुक्की होने के बाद पुलिस फोर्स ने हल्का बल प्रयोग कर धरने पर बैठे लोगों को खदेड़ दिया। जिसमें दो जनों के सिर में चोट आईं। इससे विवाद और बढ़ गया। भाजपा कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन तेज हो गया। इस बीच भाजपा सरकार में केबिनेट मंत्री रह चुके और वर्तमान में विधायक कालीचरण सर्राफ भी मौके पर पहुंचे और कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर चल रहे धरने पर बैठ गए। वे मालवीय नगर थानाप्रभारी को निलंबित करने की मांग करने लगे।

मामला बढ़ता देखकर एडिशनल पुलिस कमिश्नर अशोक कुमार गुप्ता और अजय पाल लांबा सहित डीसीपी पूर्व डॉ. राहुल जैन, एसीपी ललित किशोर शर्मा, एसीपी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ मौके पर पहुंचे। जिन्होंने एमएलए कालीचरण सर्राफ व सुमन शर्मा से समझाइश कर धरना समाप्त करने की बात कही। ऐसे में शाम करीब चार बजे सेक्टर 3 से धरना खत्म कर वे लोग मालवीय नगर थाने पहुंच गए। वहां लाठीचार्ज करने वाले पुलिसकर्मियों को हटाने की मांग जारी रखी। इस बीच कोई निर्णय नहीं हो सका। नाहीं, थड़ियों में आग लगाने वाले बदमाशों की पहचान हो सकी। 

यह है पूरा मामला

कियोस्क मालिक गोविंद ने बताया कि देर रात करीब 3.15 बजे कियोस्क से आग की लपटें उठते देखी थी। इसके बाद हल्ला मचने पर वे सब लोग बाहर आए। जिन कियोस्क में आग लगी। उनमें दो कियोस्क के साथ एक मसाले, चाबी, फोटो फ्रेम और पंक्चर बनाने की थी। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे दमकलकर्मियों ने आग पर काबू पाया। तब तक कियोस्क में रखा सामान जलकर राख हो गया। गुरुवार सुबह घटना से गुस्साए स्थानीय लोग पीड़ित कियोस्क संचालकों को मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर भाजपा महिला नेता सुमन शर्मा की अगुवाई में सेक्टर 3 में धरने पर बैठ गए और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

तब मालवीय नगर थानाप्रभारी अरुण पूनियां व एसीपी मालवीय नगर महेंद्र कुमार शर्मा भी अतिरिक्त जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे। वहां धरने पर बैठी भाजपा महिला नेता सुमन शर्मा के माध्यम से समझाईश कर धरने से उठने का आग्रह किया।इस बीच कांग्रेस प्रवक्ता अर्चना शर्मा भी अपने समर्थकों के साथ मौके पर पहुंची। ऐसे में दोनों नेताओं के समर्थक आपस में टकराने लगे। पुलिस बचाव में आई। तभी आक्रोशित लोगों की पुलिस से तकरार हो गई। ऐसे में पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर धरना दे रहे लोगों को खदेड़ दिया। लाठीचार्ज में धरने में मौजूद धर्मा चौधरी का सिर फट गया। इससे मामला गरमा गया। तब विधायक कालीचरण सर्राफ और पूर्व मंत्री अरुण चतुर्वेदी भी धरने पर पहुंचे।

पुलिस के बचाव में आई कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा- भाजपा के नेताओं की शह पर चल रहे है हुक्का बार व जुआ

इस मामले में कांग्रेस की महिला नेता और मालवीय नगर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी रहीं अर्चना शर्मा ने एक प्रेस कॉफ्रेंस की। जिसमें कहा कि पुलिस प्रशासन ने रात को ही आगजनी की घटना के बाद तत्परता दिखाई थी। लेकिन गुरुवार सुबह 7 बजे भाजपा के लोगों ने धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया। घटना को राजनीतिक लाभ लेने का प्रयास किया। जब वे मौके पर पहुंची तब धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया। अर्चना शर्मा ने भाजपा की स्थानीय जनप्रतिनिधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी शह पर हुक्का बार, अवैध शराब, सट्‌टेबाजी व गुंडागर्दी चल रही है। इसी के चलते आगजनी के मामले को मुद्दा बनाया जा रहा है।